विश्व स्तर पर होने वाली Google साइंस प्रतियोगिता में भारतीयों का बोलबाल, जानिये किन भारतीयों ने बनाई फाइनल में जगह …

0
643

nd-580x376
लगातार 6वें साल हो रहे Google साइंस फेयर में भारत और प्रवासी भारतियों ने अभूतपूर्व प्रदर्शन करते हुए फिन्स्ल राउंड में जगह बना ली है, और पने इस प्रदर्शन से यह साबित कर दिया है कि विज्ञान और बौद्धिक क्षमता के मामले में भारतीय दुनिया के किसी भी देश से पीछे नहीं हैं |

पिछले 6 सालों से लगातार होने वाली इस प्रतियोगिता में 13 से 18 वर्ष के किशोर हिस्सा ले सकते हैं, और अपने बनाये गए प्रोजेक्ट्स की आधार पर प्रतियोगिता में अपना स्ठान सुनिश्चित करते हैं, Google की इस प्रतियोगिता में पूरे विश्व से किशोर भाग लेते हैं, यह एक ऑनलाइन विज्ञान व प्रौद्यिगिकी प्रतियोगिता है जिसमे जीतने वाले किशोर को 50,000 डॉलर की छात्रवृत्ति दी जाती है |

इस प्रतियोगिता में भारत के रहने वाले दो किशोरों फातिमा और श्रीआंक ने फाइनल में अपने जगह बना ली है, जबकि इसके अलावां भारतीय मूल के अमेरिका में रहने वाले किशोर अनुष्का नाइकवारे (13), अनिका चिरला (14), निखिल गोपाल (15), निशिता बेलूर (13) ने भी फाइनल में जगह बना ली है |

फातिमा हैदराबाद के वासवानी school की छात्रा हैं और उन्होंने एक ऐसी नियंत्रण प्रणाली विकसित की है जो मुख्य जलाशयों के द्वार और खेती के लिए पानी आपूर्ति करने नहरों के संचालन को नियंत्रित कर स्वचालित जलप्रबंधन प्रणाली मुहैया कराएगी |

वही बेंगलुरु के रहने वाले 15 वर्षीय श्रीआंक ने कीप टब नाम का एक ऐसा पहना जा सकने वाला यंत्र बनाया है जो किसी व्यक्ति कि रोजमर्रा की गतिविधियों को याद रखेगा |

अखंड भारत परिवार देश की इन युवा प्रतिभाओं को Google साइंस फेयर में उनकी इस उपलब्धि के लिए बधाई के साथ ही फाइनल राउंड में सफलता के लिए उन्हें शुभकामनाएं देता है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY