भारत को धमकी देने वाले पाकिस्तान को भारत कुछ छड़ों में ही नष्ट कर सकता हैं …आइये करते हैं तुलना …

5
43952

indian army

अभी हाल ही में भारत ने म्यांमार बॉर्डर के अन्दर घुसकर जिस तरह से आतंकवादियों का सफाया किया हैं उसके बाद पूरा का पूरा पाकिस्तान भारत के विरोध में बयान बाजी कर रहा हैं, पूर्व सैन्य तानाशाह परवेज मुशर्रफ ने तो यहाँ तक कह दिया कि हमनें चूड़ियाँ नहीं पहन रखी हैं, भारत को बर्बाद करके रख देंगे I पूर्व सैन्य तानाशाह ने नसीहत देते हुए कहा हैं कि क्या हमनें परमाणु मिसाइल सबे-बरात के लिए बना कर रखी हैं…?

पूरे पकिस्तान की तरफ से आये इन बयानों के बाद हमनें सोचा चलो पता करते हैं कि भारत को धमकी देने वाले पकिस्तान में हैं कितना दम जिसकी दम पर वह दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी सैन्य शक्ति को धमकी देने चला हैं ?

जानिए भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच में क्या हैं अंतर, और पाकिस्तान कितनी देर तक भारत के सामने युद्ध के मैदान में रुक सकता हैं …?

पाकिस्तानी सेना का सर्वे …

पाकिस्तान की सेना में मात्र 6 लाख 17 हजार सैनिक ही हैं और इनमें अगर हम रिजर्व बल और पैरामिलेट्री को भी शामिल कर देतें हैं तो यह संख्या पहुँच जाएगी 14,34000…

पाकिस्तान के पास 500 अलखरीद युद्धक टैंक, 320 टी80 टैंक, 1300 अलजरार टैंक, टाइप 82-2 और टाइप 69-2 टैंक, 345 एम48 ए5 अमेरिका में बनें टैंक हैं और 50 टी-54/55 टैंक हैं …

पाकिस्तानी सेना के पास 203 और 155 एमएम की हात्जिर गन्स, 92 बहुउपयोगी लांच रॉकेट सिस्टम और 3500 आर्टिलरी हैं।

इसके अलावा पाकिस्तान के पास 20,850 बख्तर-शिकन एंटी-टैंक मिसाइल्स और 10,000 से ज्यादा अन्य एंटी-टैंक मिसाइल्स हैं। बैलिस्टिक मिसाइल्स में पाक के पास हत्फ, अब्दली और नसर मिसाइल्स हैं। शार्ट-रेंज मिसाइल्स में गजनवी और अब्दली-2 मिसाइल्स हैं। मध्यम दूरी की गौरी और शाहीन मिसाइल्स भी पाक के हथियारों में हैं।

भारतीय सेना –

जहाँ पाकिस्तानी सेना के पास 6,17,000 सैनिक और अधिकारी हैं वहीँ भारत के पास 13,25,000 सैनिक जवान और अधिकारी हैं…

यदि इसमें रिजर्व और पैरामिलिट्री फोर्सेज को जोड़ दिया जाए, तो यह संख्या 47,68,407 होगी। देश की सेना में 30 रेजिमेंट और 63 सशस्त्र रेजिमेंट्स हैं जो 7 ऑपरेशनल कमांड्स और तीन प्रकार की सेनाओं में 37 डिवीजंस में फैली है।

indian army1

भारतीय सेना की ताकत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सेना के पास 2414 टी-72 युद्धक टैंक, 807 टी-90 टैंक, 248 अर्जुन एमके-2 टैंक हैं। इसके अलावा 550 टी-55 टैंक भी हैं। 807 पिनाका और 150 से ज्यादा बीएम-21 बहुउपयोगी रॉकेट लांचर्स हैं। एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल्स में भारत के पास 443 नाग, 30000 मिलन, 4100 मिलन 2टी और 15000 9एम113 कोंक्रूज मिसाइल्स हैं। इतना ही नहीं कोरेंट, फगोट, शत्रुम, अताका-वी, मल्युक्त और फालंका जैसी हजारों एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल्स हैं। पृथ्वी, सूर्या, अग्नि ब्रह्मोस बैलेस्टि मिसाइल्स की पूरी रेंज है।

indian army 5

यह तो थी थल सेना की बात, अब करते हैं वायु सेना की बात …

पाक की वायुसेना भी भारत की आधी –

पाकिस्तान की वायुसेना में भी भारत का आधा दम भी नहीं है। पाक वायु सेना में 65000 सक्रिय सैनिक और 530 कॉम्बैट एयरक्राफ्ट हैं जो 9 एयरबेस से संचालित होते हैं। पाक के पास अमरीका, चीन और फ्रांस में बने युद्धक विमान हैं जिनमें एफ-16 फाइटिंग फाल्कन, जेएफ-17 थंडर और डासउल्ट मिराज रोज-2 फाइटर्स हैं। ट्रांसपोर्ट एॅयरक्राफ्ट्स में लॉकहीड मार्टिन सी-130 और एयरबस ए310 जैसे बड़े विमान हैं। हालांकि पाक वायु सेना के पास कोई टोही विमान नहीं है। इसके अलावा पाक के पास 120 चैंग्डू एफ-7पी और 60 एफ-7पीजी फाइटर प्लेन हैं। 150 मिराज फाइटर्स, 30 जेएफ -17 थंडर फाइटर्स, 54 एफ-16 फाइटिंग फॉल्कन और 36 चैंग्डू एफसी-20 फाइटर प्लेंस हैं।

पाक से कई गुनी बड़ी है भारतीय वायुसेना –

mi17

किसी भी लिहाज से देखें, भारतीय वायुसेना पूरे पाकिस्तान को घेर सकती है। गौर फरमाइए इन आंकड़ो पर। भारत के पास 127000 कर्मचारी और 1500 एयरक्राफ्ट्स हैं। 2012 के इन आकड़ों से भारत दुनिया की चौथी बड़ी एयरफोर्स है। देश के पास रूस और फ्रांस निर्मित मिग-29, डसाउल्ट मिराज और सुखोई फाइटर प्लेंस हैं। इनमें 146 सुखोई सु-30 एमकेआई फाटर्स को मिलाकर 272 विमान हैं। भारत के पास 68 मिग-29 और 51 मिराज 2000एच फाइटर प्लेंस हैं। भारत ने हाल ही में 126 डसाउल्ट रफेल मल्टी-रोल फाइटर प्लेंस का आर्डर किया है। देश ने 48 तेजस फाइटर प्लेंस के लिए भी आर्डर दे दिया है। इनके अलावा कई तकनीकों से लैस सैंकड़ों फाइटर प्लेंस भारतीय वायुसेना के जखीरे में हैं…

miraj 2000

अब बात करते हैं नौ सेना की –

पाक की नौसेना मे ज्यादा कुछ नहीं –

1971 में भारत के साथ युद्ध के बाद पाकिस्तान ने अपनी नौसेना को 1980 तक दुगुना कर लिया। इसके पीछे अमरीकी राष्ट्रपति रोनॉल्ड रिगन द्वारा दी गई 3.2 बिलियन डॉलर की सैन्य मदद थी। फिलहाल पाक के पास 11 युद्धक और विध्वंसक पोत, 8 पनडुब्बी, 8 तेजी से हमला करने वाले क्रॉफ्ट्स (भूमि और जल पर चलने वाली नावें), 4 मल्टी रोल टैक्टिकल क्रॉफ्ट्स, 3 माइन हंटर्स, 8 जहाज, 12 होवर क्रॉफ्ट्स ओर 17 गश्ती नावें हैं।

नौसेना में भी भारत का पलड़ा तिगुना भारी –

भारत की नौसेना पाकिस्तान की नौसेना की तुलना में तिगुनी है। भारतीय नौसेना के पास एक एयरक्रॉफ्ट कैरियर, 16 जल-थल में चलने वाले युद्धक पोत, 31 गश्ती पोत, 8 माइनवीपर्स, एक परमाणु हमला करने वाली पनडुब्बी, 8 गाइडेड मिसाइल विध्वसंक पोत, 15 गाइडेड मिसाइल युद्धक पोत, 24 कर्वटिज, 14 डीजल-इलैक्ट्रिक हमलावर पनडुब्बी और 18 सहायक जहाजों का बेड़ा है। भारतीय नौसेना विशाखापट्टनम, मुंबई, गोवा और अंडमान-निकोबार द्वीप से संचालन करती है। हिन्द महासागर में भारतीय नौसेना को लड़ने और शांतिकायम करने का तगड़ा अनुभव है।

ins vikramaditya1

अब आप स्वयं तय करिए की क्या पाकिस्तान कभी पार पा सकता हैं भारत से …
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

5 COMMENTS

  1. han uske pass par parmadu bam humse jyada hain
    aur han uski aabadi ki hissab se vo best hain aur hum apni aabadi ke hissab se ghatiya

  2. हॉ कुछ छडों से नापाक को खतम किया जा सकता है लेकिन आपकी बात अधुरी है वह भी ऐसा कर सकता है यह छडे़ बेकार हैं हैं ईनका उपयोग लाभदायक नही आतमघाती है मारने भी बचता नही १९४५ के बाद इसका ऊरयोग नही किया गया ़ही कारण है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here