भारत औरअमेरिका ने एक मंच से पाक को दी चेतावनी, कहा आतंकवाद पर दोहरे रवैये से बिगड़ेगी बात..

0
2516

MEA

भारत दौरे पर आये पाकिस्तानी विदेश मंत्री जॉन कैरी और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने प्रेस कांफ्रेंस करके पकिस्तान को सीधे तौर पर आतंकवाद के खिलाफ उसके दोहरे रवैये के लिए चेताया है और साथ ही यह भी साफ़ किया की भारत-अमेरिका के रिश्ते अब पहले से काफी मजबूत हो चुके हैं और दोनों ही देश एक-दुसरे को पूरा समर्थन देने के लिए प्रतिबद्ध हैं |

अमेरिकी विदेशमंत्री जॉन कैरी ने स्पष्ट रूप से पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि सारी दुनिया जानती है कि दुनिया के प्रमुख अतनी संगठनों में शामिल लश्कर-ए-तैयबा और हक्कती नेटवर्क पकिस्तान से ही संचालित होते हैं उन्होंने कहा अमेरिका पूरी तरह इस बात से सहमत है कि पाकिस्तान को साल 2008 की मुंबई आतंकी घटना और पठानकोट आतंकी हमले के गुनहगारों को कानून के दायरे में लाने के लिए तेजी से कार्रवाई करनी चाहिए, केरी ने यह भी कहा कि अमेरिका ‘अच्छे और बुरे आतंकवाद’ में कोई फर्क नहीं करता |

जॉन केरी ने कहा कि यूएस भारत के पॉवर ग्रिड को अपग्रेड करने का काम करेगा, और भारत में विभिन्न रोगों के रोकथाम के लिए भारत में ट्यूबरकलोसिस व डेंगू के टीके का क्लिनीकल ट्रायल करेगा, उन्होंने कहा भारत और अमेरिका दोनों देशों के बीच पहले से कही ज्यादा प्रगाढ़ संबंध है, हम भारतीय पर्यटकों के अमेरिका में आवाजाही को और आसान बनायेंगे, जॉन केरी ने कहा अमेरिका हमेशा से आतंकवाद का विरोध करते आया है, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में वो भारत का साथ देगा, उन्होंने कहा कि जॉइंट साइबर सिक्यॉरिटी फ्रेमवर्क पर भारत को अमेरिका का समर्थन है |

जॉन के बयानों का समर्थन करते हुए सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया और पठानकोट तथा मुंबई हमले के आरोपियों पर तत्काल सख्त कार्यवाही करने की मांग की और साथी यह भी कहा किसी भी देश के आतंकवाद पर दोहरे मापदंड नहीं अपनाने चाहिए |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here