मर्ज का उपचार करने की बजाय मरीजों का आर्थिक शोषण कर रहे नर्सिंग होम : अरूण

0
48

दुबहर/बलिया (ब्यूरो)- जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में संचालित हो रहे निजी नर्सिंग होम के संचालकों द्वारा इलाज और जांच के नाम पर लोगों को डरा धमका कर मोटी रकम की वसूली करने के खिलाफ बलिया विकास मंच ने आवाज अभियान चलाने का निर्णय लिया है । इस संबंध में जानकारी देते हुए बलिया विकास मंच के अध्यक्ष पूर्व जिला पंचायत सदस्य अरुण सिंह ने कहा कि जिस तरीके से जनपद के शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र के प्राइवेट नर्सिंग होम के संचालकों एवं चिकित्सकों द्वारा आम जनता का शोषण किया जा रहा है, यह बंद होना चाहिए । कहा कि प्राय यह देखने में आ रहा है कि डिलीवरी के दौरान भी लोगो से ऑपरेशन का दबाव बनाकर तथा बच्चे को गंदा पानी पीने का बहाना बनाकर यह प्राइवेट नर्सिंग होम के संचालक लोगों का जमकर शोषण कर रहे हैं ।

श्री सिंह ने जिलाधिकारी से यह मांग किया है कि प्राइवेट नर्सिंग होम के लोगों के चिकित्सीय प्रमाण पत्र की जांच के साथ ही उनके कर्मचारियों की योग्यता तथा उनके मानक की साल में एक बार जरूर जांच होनी चाहिए ।तथा प्रत्येक इलाज एवम ऑपरेशन के शुल्क का एक खुला बोर्ड उनके नर्सिंग होम में लगाने की व्यवस्था की जानी चाहिए । ताकि लोगों का शोषण रुक सके । साथ ही बगैर मान्यता प्राप्त चलाए जा रहे नर्सिंग होम को तत्काल बंद किया जाना चाहिए ।

कहा की जिले के सरकारी चिकित्सालय ही अगर ठीक हो जाएं तो इन नर्सिंग होम की दुकान हमेशा के लिए बंद हो सकती है । श्री सिंह ने जिलाधिकारी के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि यह काम हर जिले के जनप्रतिनिधियों को भी करना चाहिए जिसे चिकित्सालय की व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त हो सके । क्योकि आज लोगो को स्वास्थ्य सेवाओ की सबसे अधिक आवश्यक्ता महशूस हो रही हैं ।

रिपोर्ट – त्र्यंबक पांडे गांधी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here