स्कूल, मोहल्ले में खुल रही शराब की दुकानें, प्रशासन लापरवाह

0
59

उन्नाव(ब्यूरो)- सरकार का आदेश हुआ और शराब की दुकानें हाइवे से 500 मीटर की दूरी पर होंनी चाहिए ,और प्रशासन ने शराब की दुकानों को हाइवे से तो 500 मीटर की दूरी पर करवा दिया लेकिन नयी जगह वह किस स्थान पर खुल रही है ये किसी ने भी ध्यान नही दिया| अक्सर शराब की दुकानें बीच बस्ती में तो कही स्कूल के पास तो कहीं पर खोल दी गई है| जो कि आम जनमानस के लिए बहुत बड़ी समस्या बन गई है बीच बस्ती में शराब की दूकान खुल जाने से लोग अपने आप को सुरक्षित नही महसूस कर रहे है| बीच बस्ती में शराबियो का जमावड़ा लगा रहता है|

ऐसा ही ठीक मंजर हसनगंज तहसील चौराहे पर देखने को मिलता है| जहाँ पर देसी शराब की दूकान को हाइवे से हटा कर तहसील मुख्यायल को जाने वाले चौराहे पर स्थापित कर दिया गया है| जहां से तहसीन मुख्यालय महज 300 मीटर की दूरी पर होगा, साथ ही देसी शराब ठेके से मात्र 50 मीटर की दूरी पर एक प्राइवेट स्कूल भी संचालित है लेकिन शायद ये सब प्रशासन को नहीं दीखता| बीच बस्ती में शराब की दूकान खुलने से वहां रह रहे लोगो में आक्रोश है| जिस पर गुरुवार को तहसील दिवस में राम लखन विनोद सिंह सहित दर्जनों लोहा ने एक प्रार्थना पत्र दिया है जिसमे सघन बस्ती के बीच में संचालित देसी शरण बी ठेके को कही अन्यत्र खुलवाने की मांग की है ।

रिपोर्ट- राहुल राठौर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here