बांग्लादेश की राजधानी ढाका में हुए हमले पर इरफ़ान खान ने दुनिया भर के मुसलामानों से पूछा सवाल, ‘अब चुप क्यों है मुसलमान’

0
589

irrfan khan
मुंबई- बांग्लादेश की राजधानी ढाका में हुए भीषण संहार और आतंकी हमले के बाद बॉलीवुड सुपर स्टार इरफ़ान खान ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक पोस्ट लिखकर दुनिया भर के मुसलमानों से एक सवाल करते हुए कहा है कि, ‘कोई भी हादसा किसी एक जगह होता है और बदनाम पूरी दुनिया के मुसलमान होते है |’

बता दें कि बांग्लादेश की राजधानी ढाका में हुए आतंकी हमले में शुक्रवार को 20 लोगों की आतंकियों ने गला रेत कर हत्या कर दी थी | बाद में बांग्लादेश की सेना के द्वारा चलाये गए कमांडो ऑपरेशन में 6 आतंकी भी मारे गए थे जबकि एक आतंकी को जिन्दा गिरफ्तार कर लिया गया था |

क्या कहा इरफ़ान खान ने –
इस पूरे प्रकरण पर एक सवाल करते हुए इरफ़ान खान ने अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा है कि, “बचपन में मज़हब के बारे में कहा गया था कि आपका पड़ोसी भूखा हो तो आपको उसको शामिल किए बिना अकेले खाना नहीं खाना चाहिए. बांग्लादेश की ख़बर सुनकर अंदर अजीब वहशत का सन्नाटा है |”

“क़ुरान की आयतें न जानने की वजह से रमज़ान के महीने में लोगों को क़त्ल कर दिया गया. हादसा एक जगह होता है और बदनाम इस्लाम और पूरी दुनिया का मुसलमान होता है |”

“वो इस्लाम जिसकी बुनियाद ही अमन, रहम और दूसरों का दर्द महसूस करना है. ऐसे में क्या मुसलमान चुप बैठा रहे और मज़हब को बदनाम होने दे? या वो ख़ुद इस्लाम के सही मायने को समझे और दूसरों को बताए कि ज़ुल्म और नरसंहार करना इस्लाम नहीं है |”
अपनी पोस्ट ख़त्म करते हुए इरफ़ान ख़ान ने लिखा कि ये उनका एक सवाल है |

इरफ़ान खान की इस पोस्ट को फेसबुक पर लोगों ने खूब अपनी प्रतिक्रिया ब्यक्त की है लेकिन हर किसी के शब्दों में क्रोध साफ़ झलक रहा है | आज दुनिया का हर एक इंशान इस जघन्य अपराध से दुखी है |

बता दें कि हाल ही में इरफ़ान खान ने जयपुर में भी एक विवादित बयान दिया था जिसका कुछ लोगों ने विरोध भी किया था | दरअसल आपको बता दें कि इरफ़ान खान ने हाल ही में जयपुर में अपनी फिल्म के प्रमोशन के दौरान कहा था कि, ‘बाजार से दो बकरों को लाकर काट देने को कुर्बानी नहीं कहते है | कुर्बानी का अर्थ होता है कि आप अपनी किसी चीज को उस दिन से करना छोड़ दे उसे कुर्बानी कहते है |”

इरफ़ान खान की इस टिपण्णी के बाद अच्छा ख़ासा बवाल मच गया था जिसके बाद इरफ़ान खान ने अपनी फेसबुक वाल पर लिखा था कि, ‘मै ईश्वर का शुक्रिया अदा करता हूँ कि मै ऐसे किसी देश में नहीं रहता हूँ जिसे धर्म के ठेकेदार चलाते है | और मै किसी धर्म के ठेकेदार से नहीं डरता हूँ |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY