सरकारी भांग की दुकान पर खुलेआम बिक रहा गांजा, युवा आ रहे इस की जद में

0
150

सोनभद्र(ब्यूरो)- चोपन नगर स्थित सरकारी भांग की दुकान के आड में खुलेआम गाजे की बिक्री की जा रही है| लाख शिकायतों के बावजूद आबकारी विभाग व् पुलिस विभाग की मिली भगत के कारण बिना किसी भय के नशे के सौदागर जहर बेचने का खुला व्यापर करने में लगे हुये है और आबकारी विभाग के साथ ही पुलिस प्रशासन भी इन के विरुद्ध कोई कार्रवाई करने से हिचकिचा रही है| नशे का कारोबार दिनों दिन अपना पांव पसारने में मशगूल है ।

बतातें चलें कि जब इस सम्बन्ध में नगरवासियों सम्बंधित विभाग से शिकायत करते है तो उपरोक्त विभागों के जिम्मेदारों का कहना है कि हम सबूत के आधार पर ही कार्यवाही कर सकते हैं । बार-बार शिकायत करते करते अजीज आकर महिला सुरक्षा एवं जन सेवा समिति की नेता सावित्री देवी ने खुलासा करने के लिए रविवार को खुद चोपन बस स्टैंड स्थित भांग की दुकान पर जा कर लगातार कैमरे के मदद से निगरानी कर रही थी ।

उसी दौरान एक शख्स कैमरे की कैद में आ गया जो सरकारी भांग की दुकान से रु. 30 वाली गांजा की पुड़िया खरीद रहा था । जब इस बात की तफ्तीश दुकान वाले से किया गया तो वह अपना बोरिया-बिस्तर समेटते हुए दुकान का शटर गिरा कर वहां से फरार हो गया । बताया जाता है कि ठेका तो सरकारी भांग का होता है लेकिन ठेकेदार द्वारा ठेके की आड़ में छोटी-छोटी पुलिया बनाकर रु. 20/30/50/60 तक की बेची जाती है । देखा जाए तो नगर के युवा वर्ग जो लगभग हाई स्कूल इंटर के पढ़ने वाले छात्र बुरी संगत में फंसकर कई जगह कश भरते नजर आ रहे हैं और अगर नगर में खुलेआम बिक रहे गांजे पर रोक नहीं लगाई गई तो युवा वर्ग पूरी तरह से नशे की गिरफ्त में होंगे और नशा की पूर्ति ना होने की दशा में वह अपराध की ओर बढ़ने लगेंगे लोगों द्वारा कहा जा रहा है कि, अवैध धंधे में क़स्बा पुलिस को भी खर्चा मिल जाता है । सो पुलिस भी कभी इन दुकानों की तरफ देखती नहीं है। आबकारी विभाग अगर इस पर सख्ती नहीं दिखता है, तो वो दिन दूर नहीं होगा कि भांग की दुकानों में गांजा के साथ स्मैक की पुडि़या भी चोरी-छिपे बेची जाने लगेगी।

आलाधिकारी ही सरकार की बदनामी कराने पर उतारू है, जबकि योगी सरकार इन सब कारोबार पर सख्ती से निपटने के लिए आलाधिकारियों को निर्देश दे रखे हैं। योगी सरकार को ठेंगा दिखाते हुये आबकारी एवं पुलिस विभाग के अधिकारी अवैध नशीली चीजों की बिक्री की खुली छूट दे रखी है। सवित्री देवी ने यह भी कहा कि अगर नगर में गांजे की बिक्री पर रोक नहीं लगाया तो हम इसकी शिकायत और भी उच्चाधिकारियों से करेंगे।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here