साहब रास्ता बता दीजिए पूछना ही गुनाह हो गया

0
68

वाराणसी- जिले के थाना सिगरा क्षेत्र पेट्रोल पंप के सामने रात्रि 9:00 बजे राकेश सिंह निवासी भदोही ओला में ड्राइवर के रूप में कार्यरत हैं जो किसी होटल का पता पूछने के लिए पुलिस की गाड़ी देख कर अपनी गाड़ी को रोककर उन्होंने मदद मांगी तब क्या हुआ सुनकर आपको आश्चर्य होगा|

गाड़ी का सारा कागजात सही था ड्राइवर के पास ड्राइवरी लाइसेंस भी मौजूद था गाड़ी तीन महीना पहले ही खरीदी गई थी गाड़ी का नंबर यूपी 65 FT 0519 है मगर साहब का गुरुर तो देखिए अपने वर्दी के नशे में चूर साहब ने ड्राइवर को बुला कर कहा अपने कागज दिखाओ| कागज चेक करने के बाद DL मांगा और चालान रसीद कर दी ड्राइवर अपने नौकरी की दुहाई देता रहा लेकिन साहब ने एक नहीं सुनी| उसके बाद क्या हुआ और आपको हृदय को द्रवित करेगा| जैसे ड्राइवर अगले दिन ओला कंपनी में चालान राशि लेकर जाता है ड्राइवर को हिदायत होती है कि यदि इस तरीके को चालान काटा जाएगा तो आपके अपने तनख्वाह से पैसे काट दिए जाएंगे साथ ही उसकी नौकरी भी छिन गई और वह बेरोजगार हो गया|

रिपोर्ट- सर्वेश कुमार यादव 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here