ऊंची बिरादरी में पैदा होना यही मेरा गुनाह है

0
26

वाराणसी (ब्यूरो) –  विकासखंड बड़ा गांव के रघुनाथपुर गांव निवासी बागीश दुबे ने बताया कि आज 50/60साल पहले हम लोगों की सैकड़ों एकड़ जमीन एयरपोर्ट में चली गई जो थोड़ा बहुत बचा उसी से गुजर बसर कर रहे हैं एक कच्चा मकान था वह भी ध्वस्त हो गया मजबूरन मुझे गांव के बाहर आकर तीनसेड डाल कर अपना और अपने परिवार का गुजर-बसर कर रहा हूं मोदी सरकार में लगा कि कुछ न्याय मिलेगा और हमने ग्राम प्रधान के यहां गुहार लगाई कि हम एक आवास और शौचालय दे दिया जाए जिससे हम गरीब ब्राह्मण भी अपना गुजर-बसर कर सके 10 साल बीत गया ग्राम प्रधान केवल आश्वासन दे रहे हैं|

यही नहीं हमने विधायक से भी गुहार लगाई थी लेकिन कुछ हासिल नहीं हुआ आज मैं अपने परिवार के साथ झोपड़ी में रहने को मजबूर हूं क्या मेरा यही गुनाह है कि मैं ऊंचे कुल में पैदा हुआ हूं ब्राम्हण परिवार में पैदा हुआ हूं इस गांव में इस तरह की बहुत-बहुत लोगों के साथ समस्याएं हैं यह गांव एयरपोर्ट बाउंड्री से सटा हुआ है तथा यह इस गांव की सैकड़ों एकड़ जमीन एयरपोर्ट के अंदर चली गई जो आज रन में रूप में है एयरपोर्ट से सटा गांव होने के नाते वीआईपी गांव में गिनती होती है।

रिपोर्ट – गौरव अग्रहरि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here