जाली नोट रखने के जुर्म मे पांच साल की कैंद

0
111

गोरखपुर (ब्यूरो)- अपर जिला एंव सत्र न्यायधीश द्वितिय विनय खरे ने जाली नोट रखने के जूर्म मे आरोपी को दोषी ठहराते हुए पांच साल की कारावास की सजा सुनाई है|साथ ही १५००० हजार रूपये की जुर्माना लगाया है|अर्थ दण्ड न देने की दशा में अतिरिक्त कारावास की सजा भुगतनी होगी|एक अन्य आरोपी को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया गया|

सहायक शासकीय अधिवक्ता फौजदारी नित्यानन्द यादव ने घटन् की जानकारी देते हुए कोर्ट ने बताया कि घटना पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र की है|एस.ओ.जी.प्रभारी पी.के.झा १८ जलाई २००५ को अपने हमराही पुलिस के साथ गश्त कर रहे थे मुखबीर की सूचना पर एक व्यक्ति संदेह की स्थित मे पकड़ने पर तलाशी ली गई तो उसके पास से ५०० के १६० जाली नोट बरामद हुए थे|उसी पर न्यायालय ने सजा सुनाई|नाम पता एस्सार अहमद बखिरा जनपद संतकबीरनगर का है|

रिपोर्ट-जयप्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY