तन के तंबूरे में सांसो के तार बोले जय सियाराम

0
70

बलिया (ब्यूरो)- रेवती नगर के उत्तर टोला स्थित नवनिर्मित मां दुर्गा प्रांगण में चल रहे नौ दिवसीय शिव शक्ति प्राण प्रतिष्ठात्मक महायज्ञ के छठे दिन बिहार मीरगंज से पधारे बाल ब्यास श्री अरविंद दुबे ने कहा कि पुत कपूत हो सकता है परन्तु माता कभी कुमाता नहीं हो सकती है। कहा कि अगर किसी के पेट पर पैर से मारा जाय तो वह कभी आपकी तरफ पलट कर नहीं देखेगा।

लेकिन दुनिया में माता ही एक ऐसी शख्शियत है जो दूध पिलाते समय अपनी संतान द्वारा बार-बार पैर मारे जाने के बाद भी उसे प्यार ही करती है। कहा कि “तन के तंबूरे में सांसो के तार बोले जय सियाराम “अर्थात भक्ति भाव से भगवान को स्मरण किया जाए तो श्रद्धालु भक्त के रोम रोम से भगवन नाम उच्चारण निकलता है।

मानस मर्मज्ञ शक्तिपुत्र महाराज ने कहा कि भले ही कोई कितना ही अपना क्यों ना हो परंतु उसके द्वारा आयोजित समारोह में बिन बुलाए नहीं जाना चाहिए । शिव चरित्र का वर्णन करते हुए कहा कि भगवान शिव द्वारा माता सती को बार बार समझाया गया कि बिना बुलाए वह राजा दक्ष के यज्ञ में न जाए। पर क्या हुआ सभी भिज्ञ हैं। इस दौरान भक्तों का बड़ा हुजूम उमड़ा रहा। सभी ने भक्ति रस का रसपान किया।

रिपोर्ट -संतोष कुमार शर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY