जज के सामने गिघियाते नज़र आये दरोगा, बोले- दोबारा कभी नहीं होगी ऐसी द्रष्टता

0
203

सुल्तानपुर (ब्यूरो)- दहेज़ प्रताड़ना के मामले गैर जमानतीय वारंट आदि जारी होने व वेतन रोक देने के बाद गैर हाजिर चल रहे साक्षी तत्कालीन थानाध्यक्ष निर्भय सिंह कोर्ट पहुँचे। जिन्हें न्यायाधीश दुर्गेश पांडेय की कड़ी फटकार सुननी पड़ी। यहाँ तक की कटघरे में भी खड़े करने की नौबत आ गई थी, लेकिन काफी गिड़गिड़ाने व ऐसी पुनरावृत्ति दोबारा न करने की शर्त पर अदालत ने उन्हें बख्श दिया। तब जाकर उनका साक्ष्य हो पाया। इसी मामले में साक्षी दारोगा रमेश कुमार के खिलाफ भी अदालत ने वेतन रोकने के साथ साथ अन्य कार्यवाही जारी करने का आदेश दिया है।

आपको बता दें कि मामला चांदा थाना क्षेत्र के राम नगर गाँव का है। जहां के रहने वाले ससुरालीजन हरिकेश उनके भाई बद्री व बद्री की पत्नी रीता के खिलाफ विवाहिता अनीता देवी ने 6 मई 2009 की घटना बताते हुए मुकदमा दर्ज कराया। आरोप के मुताबिक 50 हजार नगदी व रंगीन टीवी की मांग न पूरी होने पर उन्होंने उसे प्रताड़ित कर घर से निकाल दिया और उससे छुटकारा पाने के लिए एसओ चांदा बनकर दबाव बनाने के लिए फर्जी फोन भी करवाया।

इसी मामले में सभी आरोपियों के खिलाफ एसीजेएम प्रथम की अदालत में विचारण चल रहा है। जिसमे साक्ष्य के लिए तात्कालीन थानाध्यक्ष निर्भय सिंह व दारोगा रमेश कुमार को कई पेशियों से तलब किया जा रहा है। लेकिन वह गैरहाजिर रहे, जिसके चलते अदालत से उनके विरुद्ध एनबीडब्ल्यू व 350 दप्रसं की नोटिस जारी की गई थी। यहाँ तक की निर्भय सिंह का वेतन भी रोक दिया गया था। जिसके बाद अदालत की कार्यवाही से बौखलाए मौजूदा समय में तराय सुजान जनपद कुशीनगर में तैनात दारोगा निर्भय सिंह शुक्रवार को अदालत में हाजिर हो ही गये।

जिन्हें न्यायाधीश दुर्गेश पांडेय ने कड़ी फटकार लगाई। यही नहीं उन्हें कटघरे में भी खड़े करने की नौबत आ गई। लेकिन निर्भय कुमार के जरिये काफी सिफारिश करने व ऐसी गलती न दोहराने की शर्त पर किसी तरह से अदालत ने उन्हें माफ़ किया।अब अदालत ने साक्षी दारोगा रमेश कुमार को भी आगामी 20 फरवरी तक कोर्ट में हाजिर कराने के लिए एसपी रामपुर को पत्र भेजकर निर्देश दिया है,वहीं वेतन रोकने के सम्बन्ध में भी वरिष्ठ कोषाधिकारी रामपुर को आदेश दिया है।
रिपोर्ट- संतोष कुमार यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY