बेल्हा में जमकर हुआ सरकारी धन का दुरुप्रयोग, जंगल में बनवा दिया आंगनबाड़ी केंद्र

0
232

anganvadi kendra

कालाकॉकर/कुंडा (प्रतापगढ़)- विकासखण्ड कालाकॉकर की ग्राम सभा मिरगढ़वा के प्रधान और अधिकारीयो की मिलीभगत से लाखो रूपये खर्च करके आँगनबाड़ी केन्द्र को बस्ती से दूर जंगल मे ही बनवा दिया | बता दें कि सरकार ने ग्राम सभाओ मे छोटे बच्चो के पोषाहार के लिये तथा बच्चो के स्वास्थ्य पर नजर रखने के लिये हर ग्राम सभा मे आंगनबाड़ी केन्द्र बनवाने के लिये बजट पास किया था |

जिससे कोई भी बच्चा कुपोषण का शिकार न हो, लेकिन मिरगढ़वा ग्राम सभा ने तो उस आंगनबाड़ी केन्द्र को जंगल मे बनवाकर सरकार के साथ छल और जरूरतमंद बच्चो के साथ विश्वासघात किया है | हालॉकि इसमे सिर्फ प्रधान ही दोषी नही है वो अधिकारी भी दोषी है जिन्होने उस आंगनबाड़ी को जंगल मे बनवाने के प्रस्ताव को पास किया होगा |

दो वर्षो से बने इस सरकारी इमारत के बारे मे तो अभी गॉव के लोगो को पता ही नही है कि यह इमारत है क्यों और किस काम के लिये बनवायी गयी है ? बच्चो का जाना तो दूर वहॉ तो बड़े भी नही जाते है | मौजूदा प्रधान से पूछने पर बताया कि पूर्व प्रधान ने दो वर्ष पहले ही लगभग तीन लाख के बजट से इसे बनवाया लेकिन जंगल मे होने के कारण वहॉ कोई बच्चा नही है और न ही वो कभी खुलता है गॉव के लोगो को तो उसके बारे मे पता ही नही ।

जरा सोचिये बच्चो के हक पर भी जिम्मेदार विभाग और प्रधान ने अपनी लापरवाही दिखाकर सरकार का लाखो रूपया तो बरबाद किया ही, साथ ही उन बच्चो के भविष्य के साथ भी खिलवाड़ किया गया है | सरकार इतना पैसा खर्च करने के बाद उसके उपयोग की जानकारी क्यो नही करती कि जो पैसा जिस काम मे लगाया गया उसका उपयोग सही ढंग हो रहा है कि नही अगर नही तो क्यो ? इसका जबाब कौन देगा ?
रिपोर्ट-पंकज मौर्या
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here