सूचना मिलने पर भी नहीं सुनते जेई साहब

0
42

रायबरेली (ब्यूरो) बीते कुछ दिनो पहले आये तेज आंधी-तूफ़ान ने सरायं मुगला में जो तबाही मचाई थी कि गांव में काफी कुछ तहस नहस हो गया था जिसके चलते स्वर्गीय रामफेर के मकान के ऊपर बिजली का खंबा टूटकर गिर गया था जिसकी वजह से वहां के पेड़ वह मकान में काफी नुकसान हुआ था | बिजली का पोल गिरने की सूचना जब ग्रामीणों ने व प्रधान ने संबंधित जेई शंभू नाथ यादव को फोन पर कई बार दी, तब पर भी जेई शंभू नाथ यादव ने नहीं सुना और टालते रहे कभी-कभी तो साहब का फोन ही नहीं उठता है, जब इसकी सूचना उच्च अधिकारी अशोक कुमार जी को दी गई तब जाकर कहीं दूसरा खंभा लगाया गया जैसे तैसे करके लाइन को ठीक कराया गया पर उसमें अभी ना लाईट सही से आ रही है और न ही स्टे(सपोर्ट ) वायर लगाया है स्टे वायर न लगने की वजह से पूरी लाईन लटक रही है जो जमीन से 6 फिट की उंचाई पर है, इन तारों के लटकने से किसी दिन किसी भी समय कोई अप्रिय घटना घटित हो सकती है तार लटकने की सूचना कई बार जेईई को दी गई पर रोज टालते रहे, कल तो जेईई ने साफ मना कर दिया कि हम सही नहीं करा पायेंगे किसी और को बुलाकर सही करा लो तो क्या जेई कोई कोई घटना होने के इंतजार मे या पैसा नही दिया गया ग्रामीणो द्वारा उसका इंतजार कर रहे है |

एक दिन शम्भू नाथ ने गांव मे आकर ग्रामीण से वा प्रधान से खंबे का पैसा व पोल खुदाई का तथा तार खिंचवाने का लेबर चार्ज मांग रहे थे और तो और अभी 15 दिन भी नही बीता होगा कि बिना स्टे वायर के खम्भा खड़ा कर दिया था, जिसकी वजह से तार पूरे नीचे लटक आए हैं, जो जमीन से 6 फीट की ऊंचाई पर है जिसमें बिजली आती रहती है जो कभी भी किसी भी समय कोई भी बिजली के करंट की वजह से अप्रिय घटना घट सकती है जिन ठेकेदार से शम्भू नाथ काम करवाते उनका कहना है कि काफी समय से हमारा पैसा फंसा हुआ है | जेई साहब पैसा भी नहीं दे रहे घर से बैठे-बैठे कुर्सी पर से आर्डर देते रहते जिसकी वजह से ठेकेदारों को लोगों कि गालियां सुननी पड़ रही है | बिजली चरमराई अव्यवस्था से पूरे क्षेत्र के लोग परेशान हो रहे ऐसे घूसखोर कमीशन बाज जेई शम्भू नाथ यादव को हटाया जाना चाहिए और कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए |

रिपोर्ट – अनुज मौर्य

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY