जेई साहब को जिले की बिजली व्यवस्था से नहीं कोई मतलब

0
104

रायबरेली(ब्यूरो)- जहाँ योगी सरकार किसानों को बेहतर बिजली मुहैया करवाने की बात कर रही है वही उनके नुमाइंदे उनके दावों को ठेंगा दिखा रहे है | दो दिन पूर्व मील एरिया थाना छेत्र के राही सरायं मुगला मेे आंधी से बिजली का खम्भा टूट कर घर पर गिर पड़ा था, जिसकी सूचना ग्रामीणों ने जेई को दी थी लेकिन न तो बिजली विभाग का कोई कर्मचारी ही आया और न आना मुनासिब समझा| ग्रामीण फोन करते रहे और जेई साहब टहलाते रहे आखिर में ग्रामीणों ने खुद ही खम्भा को हटाया तब जाकर आवागमन चालू हो सका|

ग्रामीणों ने बताया कि जेई साहब ने कहा है कि 1 महीने बाद ही खम्भा गड़ेगा अब इससे ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि जेई साहब कितने काम के प्रति वफादार है| खम्बा न लगने से 3 दिन से गाँव मे अँधेरा है, लोगों को दैनिक कार्यो में दिक्कतें आ रही है, बच्चो की पढ़ाई में दिक्कत हो रही है लेकिन जेई साहब को क्या जाता है? ग्रामीण जेई के कार्य से नाराज़ देखे जा रहे है|

राही के पास के गाँवो मे करीब 32 खंभे टूटकर गिर गए है| सरायं मुगला मे 5, मैनूपुर मे 5,हीरालाल के पुरवा मे 6, चकदादर 5, गौचरा मे 1 डिघीया मे 3 कुछ तो बिजली के खंभे तो घरो पर गिर गये व तार घरो की छतो पर तार फैले हुए है, जिसकी सूचना क्षेत्रीय जेई शम्भू नाथ यादव को फोन पर ग्रामीणे ने कई बार जानकारी दी पर वो भी ठीक से बात करने को तैयार नही और न ही कोई कर्मचारी या अधिकारी अभी तक नही पहुंचा है| अब देखना यह है कि क्या ग्रामीण लोग की सुनवाई होती भी है क्या कोई अधिकारी इस पर ध्यान देगा?

रिपोर्ट- अनुज मौर्य

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY