झोलाछाप डाक्टरों की मेहरबानी से गयी एक और जान

0
63

हसनगंज/उन्नाव (ब्यूरो)- कोतवाली हसनगंज के नगर पंचायत मोहान के एक प्राइवेट अस्पताल मे झोलाछाप डाक्टर की लापरवाही से महिला की म्रत्यु हो गई थी जिसके बाद स्वास्थ विभाग ने झोला छाप डॉक्टरों पर संज्ञान लिया और C S C हसनगंज अधीक्षक नितिन, और अखिलेश ने मृतक के घर आडिट करने पहुचे फिर उन दोनों अस्पातल मे पहुच कर अपने कागजो को 3 दिन मे पेश करने को कहा |

मालूम हो की रीता पत्नी धनपत चौरसिया उम्र 35 वर्ष मोहल्ला दयानंद नगर पंचायत न्योतनी की नगर पंचायत मोहान के एक प्राइवेट अस्पताल मे गर्भपात कराने गई थी जहाँ पर उसको गर्भपात के बाद महिला की दैनिक क्रिया बंद हो गयी। तीन दिन लगातार इलाज के वाद भी कुछ फायदा न होने से कस्बे के ही अन्य एक प्राइवेट अस्पताल मे दिखाया तो पता चला कि गर्भपात के समय उसके गर्भाशय और आँतों मे चोट लगी थी। जिसका इलाज वह लखनऊ के ऐरा अस्पताल मे कराने गयी जहाँ उसकी मौत हो गयी|

पति धनपत ने स्वस्थ विभाग से झोला छाप के खिलाफ जांच कराने की गुहार लगाई स्वास्थ विभाग ने C S C हसनगंज अधीक्षक नितिन, व अखिलेश ने मृतका के घर पहुँचकर आडिट की व उन दो अस्पताल ग्लोबल हॉस्पिटल ,व मोहान सेवा हॉस्पिटल मे पहुच कर औडिड की व अपने अपने कागज एकत्र कर 3 दिन मे पहुचाने को कहा है|

C S C अधीक्षक नितिन ने बताया कि आडिट करने गये थे जाँच के आदेश कोई नही मिले थे केवल आडिट करने उसके घर गये बाद मे उन दोनों हॉस्पिटल मे गये जहा पर उन दोनों अस्पतालों मे रजिस्टेशन मिला फिर भी उन दोनों को 3 दिन मे अपने कागज दिखाने को कहा है|

रिपोर्ट- राहुल राठौर 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here