बड़ागाँव के ग्रामीण क्षेत्रों में झोलाछाप डाक्टरों की भरमार

0
51

बड़ागाँव/वाराणसी (ब्यूरो) स्थानीय विकास खंड क्षेत्र के बाजारो सहित लगभग सभी ग्रामीण क्षेत्रो मे झोलाछाप डाक्टरो की दुकानो की संख्या बढ़ती जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही कहिए या फिर मिलीभगत, जिसके कारण क्षेत्र के बाजारो सहित ग्रामीण इलाको मे जगह-जगह बिना रजिस्ट्रेशन के झोलाछाप डाक्टर अपना क्लिनिक धड़ल्ले से बिना डर भय के चला रहे है इतना ही नही कुछ फर्जी डाक्टर मुन्ना भाई एम बी बी एस की तर्ज पर मरिजो की जिंदगी के साथ खेलते हुए खुले आम धड़ल्ले से आपरेशन भी कर रहे है।

बताते चलें कि बदहाल सरकारी स्वास्थ्य सेवाओ और उपेक्षा के चलते लोग इन फर्जी डॉक्टरों के चंगुल मे फंस कर पैसों से तो हाथ धोते हैं, कभी-कभी जान भी गंवा देते हैं । फर्जी डाक्टर वही दवा लिखते हैं जिनमें उन्हे अच्छा कमीशन मिलता है। अक्सर झोलाछाप डॉक्टर्स के इलाज से मरीजों की जान पर आफत आ जाती है और फर्जी डॉक्टर अपने बचाव के लिए मरीज को प्राइवेट अस्पताल में रेफर कर देते है, जंहा उनका अच्छा कमिशन पहले से ही तय होता है। स्वास्थ्य विभाग एवं प्रशासन को इस बात की जानकारी ही नहीं है कि क्षेत्र में बिना पंजीकरण के कितने क्लिनिक संचालित किए जा रहे हैं । यदि अविलम्ब फर्जी झोलाछाप डॉक्टर्स के विरूद्ध अभियान चलाकर कार्यवाई नहीं की गई तो फर्जी डॉक्टर्स की संख्या दिनो-दिन बढ़ती जाएगी और मरीजों की जिन्दगी के साथ खिलवाड़ होता रहेगा।

रिपोर्ट – घनश्याम गुप्ता

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY