जिलाधिकारी ने ली विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक, डीएम

0
60

 

सोनभद्र (ब्यूरो)- शासन की मंशा के अनुरूप विकास परक कार्यक्रमों, जन कल्याणकारी योजनाओं व लाभार्थीपरक कार्यक्रमों को समयबद्ध तरीके से पूरी पारदर्शिता व गुणवत्ता के साथ पूरा किया जाय। पात्र गृहस्थी के राशन कार्डों के सत्यापन कार्य में तेजी लायी जाय। सोशल सेक्टर के स्कीमों को मूर्त रूप देने के साथ ही स्वच्छता कार्यक्रम पर ध्यान दिया जाय।

जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय ने शनिवार को विकास कार्यक्रमों की समीक्षा के दौरान सम्बन्धितों को कड़े निर्देश दिये। मौके पर मौजूद सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को दायित्वबोध कराते हुए दिशा निर्देश देते हुए मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि लक्षित योजनाओं को हर हाल में पूरा कराया जाय, लापरवाही करने वाली कार्यदायी संस्थाओं/विभागो को चिन्हाकिंत करते हुए जरूरत पड़ने पर प्रभावी कार्यवाही भी करायी जाय।

जन कल्याणकारी योजनाओं, विकास परक कार्यक्रमों व लाभार्थीपरक स्कीमों, विद्युतीकरण, सरकारी भवनों/अस्पतालों के निर्माण पर विशेष ध्यान देते हुए लक्षित योजनाओं के समय से पूरा करते हुए राज्य एवरेज को हर हाल में प्राप्त किया जाय।
बैठक में लक्ष्य पूरा न करने वाले विभागों/कार्यदायी संस्थाओं को जहाॅ जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय ने कहा कि जिले के सहायक विकास अधिकारी, पंचायत, खण्ड विकास अधिकारियों के नियंत्रण में रहकर विकास खण्डवार पंचायत राज विभाग की योजनाओं को अमलीजामा देने में मदद करें।

उन्होंने कहा कि विकास से जुड़ी योजनाओं का विकास खण्ड स्तरीय अधिकारी खण्ड विकास अधिकारी हैं, हर हाल में एडीओ पंचायत को खण्ड विकास अधिकारियों के नियंत्रण में रहना होगा, उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों को खुले में शौच मुक्त करने में तेजी लाने की जरूरत है।

समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय के साथ मुख्य विकास अधिकारी रामाश्रय, अपर जिलाधिकारी उमाकांत त्रिपाठी, प्रशिक्षु आई ए एस अतुल वत्स, उपजिलाधिकारी विशाल यादव, नेसार अहमद व अन्य सबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here