जिंदगी तो अपने दम पर

0
1505

ज़िन्दगी तो अपने दम पर जी जाती हैं !

दूसरों के कन्धों पर तो सिर्फ ज़नाज़े उठाये जाते हैं !!bhagat singh1

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

17 − three =