जिसे बिना मेहनत किये सब कुछ मिलजाता वह सही समय पर नही सोच पता- शिवपाल सिंह यादव

0
83

करहल/मैनपुरी (ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश सरकार के वरिष्ठ कैविनेट मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव ने आज क्षेत्र के ग्राम नगला बीच किरथुआ में एस आर बी स्कूल का फीता काट कर और शिला पट्टिका का अनावरण कर शुभारम्भ किया। इस दौरान पूर्व मंत्री ने अपनी जमकर भड़ास निकाली और दूसरी पार्टी बनाने का संकेत दिया।

मुख्यथित पूर्व मंत्री शिवपाल यादव ने कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर द्वीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस दौरान विद्यालय का शिलान्यास शिला पट्टिका का अनावरण कर व् फीता काट कर किया। तत्पश्चात जन सभा को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि नैतिकता के आधार पर भगवान् जो कुछ भी करता है वो सब अच्छा ही करता है। सामाजिक तौर पर देखा जाये तो मनुष्य को हर शिक्षा की जानकारी होनी चाहिए। फिर भी मनुष्य कितना भी ज्ञान अर्जित कर ले उसे पूरी शिक्षा कभी नहीं मिल सकती।

उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का बिना नाम लिए कहा कि जिसे बिना किसी करे धरे की कुर्सी मिल जाती हैए बिना किसी मेहनत के सत्ता मिल जाती तो उसके सोचने समझने की शक्ति कम हो जाती है और वह सही समय पर सोच नहीं पता है।

बुरे दिनों में में 6 महीने पहले मंत्री था और मेरे पास ऐसे विभाग थे जो किसानो से जुड़े हुए थे और एक बिभाग ऐसा भी था जिसे सभी लोग प्रयोग करते है। और अब हमे निर्णय लेना अति आवश्यक है। वो हम नेताजीए गरीब किसानए मजदूरो और आप सब की सहमति से एक बड़ा निर्णय लेंगे। क्योकि अब बो समय है।

उन्होंने कहा कि मनुष्य के जीवन में सबसे अहम बात को मन गया है। नेताजी ने जो कहा वि किया। यहाँ के लोग नेताजी के विचारों को बहुत अच्छी तरह से जानते है।

मेरा राजनीत में आने का कोई मकसद नही था। लेकिन नेताजी की व्यस्तता को देखते हुए नेताजी मुझे राजनीत में लाये। क्योकि बे प्रदेश की राजनीति में काफी व्यस्थ रहने लगे थे। मेरी भी इटावा में जनता कॉलेज और भूमि विकास बैंक में नौकरी लग चुकी थी। तभी नेता जी ने मुझे इस्तीफा दिलवा दिया था। और तब हम राजनीत में आये।

हम हमेशा नेताजी के पीछे रहे और उनके सहयोगी भी रहे। और उनके पीछे चलकर पार्टी में मेहनत की। लेकिन जब मनुष्य को बिना मेहनत किये कुछ मिल जाता है तो वह सही समय पर फैसला नही ले पाता है। कोई भी मेरी इस सरकार में गलती नही बता सकता क्योंकि मेने सभी का ख्याल रख कर कार्य किया। फिर भी मुझे 6 महीने पहले मंत्री मंडल से बहार कर दिया। जब मैंने पूछा तो ऐसा जबाब मिला जिसका कोई जबाब नही।

और अब हम बहुत जल्दी कोई बड़ा फैसला लेंगे। और उसमें आप सभी की राय को जानेंगे। नेताजी के साथ बहुत बड़ा जन समूह है। 5 सालो में मलाई काटने वालो ने जो कुछ पैदा किया तो उनसे पूछा गया कि यह सब कहा से आया तो उन्होंने नेताजी का नाम लिया। और जब नेता जी का समय आया तो मलाई काटने वाले नेताजी का साथ छोड़ गए।

कुछ लोगो ने विधायक सोवरन सिंह को भी हटाने का कार्य किया। और ऐसे ऐसे स्टार प्रचारक बनाये जो कभी गावो से बहार तक नहीं निकले। और यहाँ तक की हमे भी हटाने की बहुत कोशिशें की। मेने उत्तर प्रदेश का कोई भी ऐसा जिला नही जहाँ में 10 से 15 बार नही गया हूं। हर क्षेत्र का दौरा किया है। विधान दल की मीटिंग हुईए मुझे उसमे बुलाया तक नही गया। और अब फैसला जनता की राय से लेना चाहते है। हम फैसला महात्मा गाँधी और लोहिया जी के विचार धारा वाले लोगे से फैसला लेना चाहते है।

इस मौके पर पूर्व मंत्री सुभाष यादवए डॉ राम कुमार यादव विधायक सोवरन सिंहए राष्ट्रपति पुरष्कार प्राप्त राम नारायण बाथम सहित आदि तमाम लोगो ने विचार प्रकट किया। इस दौरान जितेंद्र यादव ने स्वागत किया।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here