राष्ट्र का अपमान करने वाले स्कूल पर कार्यवाही तेज, राष्ट्र के अपमान के साथ ही राष्ट्र की धरोहर से भी खिलवाड़…

0
892
Image Source - ABP News
Image Source – ABP News

राष्ट्रगान को इस्लाम के खिलाफ बताने वाले इलाहाबाद के एम. ए. कान्वेंट स्कूल के प्रबंधक के खिलाफ पुलिस ने राष्ट्रिय सम्मान के अपमान सहित कई अन्य धाराएँ लगाकर उसे गिरफ्तार कर लिया है, साथ ही स्कूल को सीज करने के भी आदेश दिए हैं, हैरानी की बात तो यह है कि पिछले कई सालों से यह स्कूल बिना मान्यता के ही चल रहा है |

जिला प्रशासन ने इस स्कूल में पढने वाले बच्चों को दो दिन में दूसरे स्कूलों में शिफ्ट करने का आदेश दिया है, राष्ट्रीय अपमान के आरोप में गिरफ्तार स्कूल प्रबंधक जियाउल हक को आज अदालत में पेश किया जायेगा | जियाउल हक के विवादित बयानों के कारण देश में आपसी सद्भाव के बिगड़ने के आसार हैं अतः उनके खिलाफ देशद्रोह की धारा के तहत भी कार्यवाही की जा सकती है

इस खुलासे के बाद से शिक्षा विबाग के अफसरों पर भी गाज गिरी है, पिछले करीब 12 सालों से यह स्कूल बिना किसी मान्यता के चल रहा है और शिक्षा विभाग को इसकी भनक तक नहीं है, या शिक्षा अधिकारी ने अपने निजी लाभों के चलते स्कूल प्रशासन को राष्ट्र की अमूल्य धरोहर मासूम बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ की छूट दे राखी थी |

गौतलब है कि इलाहाबाद के एक स्कूल में पिछले 10 सालों से राष्ट्रगान गए जाने पर रोक लगी हुई है, इस रोक का विरोध करने के चलते स्कूल प्रशासन पिछले 10 सालों 8 शिक्षकों को निकाल चुका है, स्कूल प्रबंधन का कहना है कि राष्ट्रगान में भारत भाग्य विधाता पंक्ति का प्रयोग हुआ है जो कि इस्लाम के खिलाफ है, राष्ट्रगान पर रोक का ये विवाद सामने ही नहीं आता अगर स्कूल के कुछ शिक्षकों ने विरोध नहीं किया होता. आरोप है कि प्रबंधन ने आवाज उठाने पर 8 शिक्षकों को बाहर का रास्ता दिखा दिया |

इसे भी पढ़ें… देशद्रोह आरोपी उमर खालिद ने फिर देश के खिलाफ उगला जहर, आतंकी बुरहान को बताया क्रांतिकारी और शहीद |

मुश्किल में JNU छात्र कन्हैया, सेना का अपमान वाले बयान पर कोर्ट ने जारी किया नोटिस |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here