भाजपा का आरोप सपा सरकार में बेची जाती थीं नौकरियां

0
107

लखनऊ (ब्यूरो)- राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान विधानसभा में गुरुवार को भाजपा सदस्य जवाहर लाल राजपूत ने आरोप लगाया कि सपा सरकार में नौकरिया बेची जाती थीं। बिना पैसे के नौकरियां नहीं मिलती थीं। लोक सेवा आयोग इलाहाबाद के अध्यक्ष अनिल यादव को हाईकोर्ट ने अयोग्य ठहराया था। उन पर आपराधिक मुकदमे दर्ज थे। इस बीच भाजपा सदस्य ने ऐसी आपत्तिजनक बात कह दी जिस पर सपा के लोगों ने हंगामा किया।

नेता विपक्ष राम गोविंद चौधरी ने कहा कि लोक सेवा आयोग की जांच किसी भी एजेंसी से करा ली जाए, हमें कोई आपत्ति नहीं। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसी बात नहीं कहनी चाहिए जिससे कोई आहत हो। लोक सेवा आयोग का पद संवैधानिक पद है। राजनैतिक धरना प्रदर्शन आंदोलन करने पर भी मुकदमे दर्ज कर दिए जाते हैं।

उन्होंने कहा कि लोक सेवा आयोग के कितने चेयरमैन अभी तक रहे हैं, सबकी सूची निकलवा लीजिए और जिनकी बात की जा रही है, उनकी भी सूची निकलवा लीजिए। यह भी पता करा लीजिए कि उनकी योग्यता क्या थी और उनकी जाति क्या थी।

विधायक निधि पांच करोड़ करने की मांग उठी-
कांग्रेस विधायक आराधना मिश्रा ने विधायक निधि सवा दो करोड़ से बढ़ाकर पांच करोड़ करने की मांग की। उन्होंने महिलाओं को नौकरियों में 33 फीसदी आरक्षण देने, विधायकों को दो-दो सौ हैंडपंप लगवाने का अधिकार देने और दस-दस किलोमीटर सड़कें देने की भी मांग की। बुंदेलखंड की तरह पूर्वांचल के लिए भी विशेष पैकेज दिया जाए। कांग्रेस की ही नई सदस्य अदिति सिंह ने कहा कि प्रदेश में युवाओं में ड्रग्स का कल्चर बढ़ रहा है। युवा के बीच हेरोइन, कोकीन, अल्कोहल की बिक्री बढ़ी है। प्रदेश पंजाब बनने की तरफ बढ़ रहा है। इस मामले में कार्रवाई की जाए |

रिपोर्ट- मिंटू शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here