शराब की खबर निकली तो पत्रकार को मिली धमकी

0
128

 

भोजपुर (ब्यूरो )

देश का चौथा स्तम्भ कहे जानेवाला पत्रकार अगर शराब की खबर देता है तो उसको धमकी मिलती है। ये है हमारे देश का आईना जो अच्छा या खराब हो उसे दिखाना पत्रकार का काम है।

अगर गलती से शराब माफियाओं पर खबर निकल गई तो उसको फसाने की धमकी मिलती है। ये हमारे देश के कानून, संविधान जो कागजो मे सिमट कर रह गया | कि पत्रकार स्वतंत्र है लेकिन ऐसा नही है।

बिहार सरकार ने जो शराब बंदी का खेल रही है|यह फेल साबित दिख रहा है। प्रशासन तो अपना काम कर रही है| लेकिन जो पुलिस प्रशासन के कर्मचारी है वे शराब बिक्रेता से मिले है|

जो हर बात की जानकारी देते है और शराब माफिया फल फूल रहे है। अभी जहां भी बिक रहा है वह किसी न किसी अधिकारी के सहयोग से बेच रहे हैं |

रिपोर्ट-रामाशंकर प्रशाद 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here