सीओ खिलाफ सड़क पर उतरे पत्रकार जिलाधिकारी को सौपा मांग पत्र

0
81


जालौन ब्यूरो : जिले के वरिष्ठ पत्रकार व एक न्यूज बेव पोर्टल के प्रधान संपादक केपी सिंह को फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी के मामले में सोमवार को पत्रकारों का आक्रोश फूट पड़ा और उन्होंने सीओ के खिलाफ जिलाधिकारी को एक शिकायती पत्र सौंपा। जिसमें उन्होंने कहा कि सीओ द्वारा दी गई धमकी लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर चोट है और मीडिया की आवाज को दबाने का प्रयास सीओ द्वारा किया जा रहा है।  इसलिए उरई सीओ को तत्काल पद से हटाया जाए। 

गौरतलब है कि कुछ दिनों पूर्व ही जिले के पुलिस अधीक्षक ने महकमे में बडा फेरबदल किया था। इस फेरबदल में उरई कोतवाल संजय कुमार गुप्ता को भी उरई कोतवाली से हटाकर कालपी कोतवाली भेज दिया गया था। बताते चलें कि उरई में तैनाती के दौरान कोतवाल संजय गुप्ता ने भ्रष्टाचार के नए आयाम स्थापित किए थे और भ्रष्टाचार के मामले में अब तक यहां पर तैनात रहे सभी इंस्पेक्टरों को पीछे छोड दिया था। यहां तक उन्होंने पान-गुटखा वाले दुकानदारों तक से रंगदारी मांगनी शुरू कर दी थी। उनके स्थानांतरण के बाद जिले की एक प्रमुख बेव न्यूज पोर्टल पर खबर वायरल हुई। जिसमें कोतवाल संजय गुप्ता के खिलाफ लिखी कुछ लाइनों को लेकर उरई सीओ अरुण कुमार सिंह भडक उठे और उन्हेांने बेव न्यूज पोर्टल के प्रधान संपादक व जिले के वरिष्ठ पत्रकार केपी सिंह को फर्जी मुकदमे में फंसाने के साथ ही जेल तक भेजने की धमकी दे डाली। इस मामले की शिकायत वरिष्ठ पत्रकार द्वारा मुख्यमंत्री से भी की जा चुकी है, जिसमें आईजी जोन ने पुलिस अधीक्षक को पूरे मामले की जांच करने को कहा है। सोमवार को श्रमजीवी प्रेस क्लब के अध्यक्ष सुरेश खरकया के नेतृत्व में करीब दो दर्जन पत्रकारों ने जिलाधिकारी नरेंद्र शंकर पांडेय को एक ज्ञापन सौंपा। जिसमें उन्होंने सीओ द्वारा किए गए कृत्य पर भारी नाराजगी जताई गई और ऐसे सीओ को तत्काल हटाए जाने की मांग की। पत्रकारों ने कहा कि अगर सीओ को न हटाया गया तो वह आंदोलन करेंगे सडकों पर उतरेंगे। जिलाधिकारी ने मामले की जांच का आश्वासन दिया है। इस दौरान पत्रकार गोविंद दाउ, इरफान पठान, प्रदीप कुमार, देवेंद्र सिंह जादौन, प्रमोद पाल, विशाल वर्मा, सत्येंद्र सिंह राजावत, अवधेश सिंह बब्लू, अनुज कौशिक, राकेश कुमार बाथम आदि मौजूद रहे। वहीं दूसरी ओर पत्रकारों की शिकायत के पुलिस उपमहानिरीक्षक झाँसी ने भी आवश्यक कार्यवाही का आश्वासन दिया है।

रिपोर्ट – अनुराग श्रीवास्तव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here