कांग्रेस के बेरोजगारी कार्ड पर आयोग ने फिर दिया नोटिस

0
152

election commission

देहरादून- कांग्रेस के बेरोजगारी भत्ता कार्ड पर निर्वाचन आयोग के रोक के बावजूद कार्ड प्रक्रिया को स्थगित नहीं किया गया है। आयोग ने कांग्रेस को फिर नोटिस देते हुए सोशल मीडिया पर चल रही रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को रोकने और गुरुवार अपराह्न चार बजे तक इस पर जवाब मांगा है।भाजपा चुनाव आयोग संपर्क प्रदेश प्रमुख पुनीत मित्तल के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी राधा रतूड़ी से शिकायत की है।

बेरोजगारी भत्ते का रजिस्ट्रेशन बंद नहीं-
कांग्रेस का सोशल मीडिया पर बेरोजगारी भत्ते का रजिस्ट्रेशन बंद नहीं हुआ है। यह भी आरोप लगाया कि कांग्रेस नेताओं और मंत्रियों की सभाओं में प्रतिबंध के बावजूद बेरोजगारी भत्ते कार्ड बांटे जा रहे हैं। सहायक मुख्य निर्वाचन अधिकारी मस्तू दास ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष को भेजे नोटिस में कहा है कि तीन बार रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया स्थगित रखने के निर्देश दिए थे।इसके बावजूद सोशल मीडिया पर बेरोजगारी भत्ते का रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही है, जो कि आदर्श आचार संहिता के दायरे में आता है।

राज्य के विभिन्न हिस्सों में मुकदमे भी दर्ज-
कुछ रिटर्निंग अफसरों ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में मुकदमे भी दर्ज कराए हैं।उन्होंने गुरुवार अपराह्न चार बजे तक नोटिस का जबाव देने को कहा। यह भी पूछा गया कि किन परिस्थितियों में इस प्रक्रिया को स्थगित नहीं रखा गया। स्पष्टीकरण न मिलने पर इसे आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। चुनाव आयोग का कहना है कि इस मामले में पार्टी की ओर से गुरुवार अपराहन चार बजे तक जवाब मांगा गया है।

विस का स्टॉफ प्रचार में –
भाजपा नेता रवींद्र जुगरान की शिकायत पर सीईओ कार्यालय ने मुख्य सचिव और सचिव (विधान सभा) से कर्मचारियों की उपस्थिति स्पष्ट करने को कहा है। जुगरान का आरोप है कि विस के काफी कर्मचारी स्पीकर गोविंद सिंह कुंजवाल के विधान सभा क्षेत्र में प्रचार कर रहे हैं। ये कर्मचारी सेवा नियमावली का घोर उल्लंघन है।
रिपोर्ट- मोहम्मद शादाब
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here