कलयुगी माँ ने नवजात बच्ची को झाडियों में फेंका, किसान ने दिया आसरा

0
28

चकलवंशी/उन्नाव (ब्यूरो) लोक लाज के भय से किसी कलयुगी माँ ने नवजात बच्ची को झाडियों में फेंक दिया, उधर से गुजर रहे किसान ने बच्चे के रोने की आवाज सुनकर देखा तो उसे घर उठा लाया और इलाज कराकर उसे अपने पास रख लिया है।

माखी थाना क्षेत्र के लहबर पुर गांव निवासी गोविंद सिंह अपने खेत से वापस लौट रहा था तभी राकेश सिंह के खेत के पास झाडियों से बच्चे के रोने की आवाज सुनकर पास में पहुँचा तो देखा कपड़े में लिपटी एक नवजात बच्ची रो रही थी जिसे वह अपने घर उठा लाया और डॉक्टर के यहाँ इलाज कराया लोगों में इस तरह की चर्चा हो रही है कि किसी बेरहम माँ ने अपना पाप छुपाने के लिए इसे झाडियों में फेंक दिया गनीमत रही कि उधर से निकल रहे गोविंद सिंह ने रोने की आवाज सुनाई दी और उन्होंने उसे अपना लिया इस सम्बन्ध में थाना प्रभारी डी. पी. शुक्ल ने बताया कि गांव के एक दम्पति ने उसे अपने साथ रख लिया है नहीं तो अनाथ आश्रम में दिया जाता है |

रिपोर्ट – अशोक दुबे 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY