कन्नौज में फिर एक बेटी हुई दहेज़ अत्याचार का शिकार

0
98
कन्नौज(ब्यूरो)- प्रदेश में योगी सरकार के दो माह बीतने के बाद भी पूर्व सरकार में चढी खुमारी नौकरशाहों से उतरने का नाम नहीं ले रही जबकि मुख्यमंत्री योगी बार बार अधिकारियों को चेतावनी देते जा रहे है। अधिकारियों की इसी खुमारी के चलते जनपद में जल्द ही एक और दहेज हत्या का मामला सामने आ सकता है।
जी हां, ताजा मामला जनपद के थाना छिबरामउ अर्न्तगत ग्राम महोई का है जहां की रहने वाली एक विवाहिता को उसके ससुराल वालों ने दहेज की और मांग को लेकर पहले तो मारापीटा और मांग पूरी न होते देख उसे मिटटी तेल डाल जलाकर मारने का भी प्रयास किया गया, मामले की सुनवाई थाने पर न होने से आहत पीडिता ने एसपी कन्नौज को अपनी पीडा से अवगत कराया परन्तु यहां भी उपर वर्णित खुमारी ने कार्यवाही से इन्कार कर दिया।
थाना छिबरामउ के ग्राम महोई ”नौली” निवासी अनीता पुत्री स्व0 बटेश्वर दयाल मिश्र ने एसपी कन्नौज को दिये प्रार्थना पत्र में अपनी आपबीती सुनाते हुए लिखा है कि उसकी शादी विगत 28 अपै्रल 2015 को अनुज कुमार पुत्र रामनरेश दूबे निवासी विभूती नगर थाना सदर कोतवाली बिलग्राम जनपद हरदोई के साथ हुयी थी, शादी में मिले दानदहेज से ससुराली जन खुश नही हुए और शादी के बाद से ही 50000 रू. नगद व एक मोटर साइकिल की मांग करने लगे, जिसकी पूर्ति न होने पर उसे ससुराल के लोगों द्वारा भाति भाति से प्रताणित किया जाने लगा, जिस क्रम में विगत 15 मई 2017 को पति अनुज, ससुर रामनरेश, सास रानी देवी, चाचा ससुर विपिन व ननद ज्योति ने उसके साथ बुरी तरह मारपीट की इतना ही नही इन लोगों ने पति अनुज की दूसरी शादी की योजना बनाते हुए उसके ऊपर मिट्टी का तेल डाल जला कर मारने का भी प्रयास किया, जान से मारने में असफल होने पर उसका सारा सामान छीन मात्र पहने हूए कपडों में जीटी रोड छिबरामउ पर जान माल की धमकी देते हुए छोड दिया। इतना ही नही 16 मई को उक्त लोग पुनः उसके घर पर आये और सादा कागज पर हस्ताक्षर कर तलाक लेने की बात कही जिससे मना करने पर पुनः उसे मारने पीटने लगे| जिसका बचाव करने आये भाई व भाभी को भी मारा पीटा शोर सुनकर पडोसियों के इकटठा होने पर उक्त सभी लोग गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए चले गये।
पीडिता अनीता ने एसपी कन्नौज से उचित कार्यवाही की मांग करते हुए जानमाल की सुरक्षा की मांग की परन्तु पूर्व सरकार की खुमारी में मस्त एसपी ने न तो अभी तक मामले का दर्ज कर उचित कार्यवाही का आश्वासन ही दिया और न ही मीडिया को ही यह बताने की जहमत उठाई कि वह इस मांग पर कोई कार्यवाही करेगें भी और करेगें तो कब तक। एसपी कन्नौज के इस गैर जिम्मेदाराना व्यवहार से यह जाहिर हो रहा है कि वह और छिबरामउ पुलिस इस बात का इंतजार कर रही है कि जबतक जनपद में एक और दहेज हत्या नही हो जाती तब तक हाथ पर हाथ धरे बैठे ही रहेंगे|
 रिपोर्ट- सुरजीत सिंह 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY