करम कर दो मेरे ख्वाजा, तुम्हारे दर पर आये हैं

0
149

खीरों/रायबरेली(ब्यूरो)- कस्बा खीरों के बाबा फतेह शहीद शाह रहमतउल्लाह अलैह का सालाना उर्स बड़े धूमधाम से मनाया गया। जिसमे गुरुवार को दिन मे कई जनपदो के हजारो जायरीनों ने मजार पर पहुँच कर चादर चढ़ाकर मन्नते मांगी। दिन मे मेले का आयोजन किया गया। जिसमे आए हुये जायरीनों ने जमकर खरीददारी की। रात मे जबाबी कव्वाली का आयोजन किया गया । जिसमे नागपुर के कव्वाल इंतजार साबरी व बनारस की कव्वाला रुकसाना बानो के बीच जबाबी का शानदार मुकाबला हुआ ।

कार्यक्रम का आगाज नागपुर के कव्वाल इंतजार साबरी ने नाते रसूल “दुनिया क्या देखते हो शहरे मदीना देखो न, रौजे पर जब नजर जाएगी आंखो की किस्मत सँवर जाएगी” पेश करने के बाद मनखबद के रूप मे “करम कर दो मेरे ख्वाजा मुइनूद्दीन ,तुम्हारे दर पे आए है मेरे ख्वाजा मुइनूद्दीन” सुनाकर जायरीनों की वाहवाही लूटी। जबाब मे बनारस की कव्वाला रुखसाना बानो ने नाते रसूल “मेरे महबूब का तन बदन नूर है” पेश किया। वही मनखबद के रूप मे “अजमेर नगर जाएँगे हम है ख्वाजा वाले, हम है ख्वाजा के दीवाने ख्वाजा है मदीने वाले” पेश कर नवी पाक की शान मे कलाम पढ़ा। इसके बाद सारी रात इसकियाँ कव्वाली का दौर चलता रहा।

इस मौके पर पूर्व बिधायक सुरेन्द्र बिक्रम सिंह, अनवर खान, इरशाद, इदरीश ,सददीक, जान मोहम्मद , सुरेश चैधरी, मो0 रहीश, गुड़िया लोढ़ो, बिंदा यादव, रज्जाक, उमेश, डॉ. अमान आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here