विजय दिवस के अवसर पर दी गयी कारगिल शहीद को श्रद्धान्जली

0
93

मैनपुरी(ब्यूरो)- देश छब्बीस जुलाई को कारगिल बिजय और उस ऑप्रेशन में शहीद हुये सैनिकों के सम्मान में कारगिल दिवस मना रहा है। किशनी में भी शेर-ए-दिवन्हपुर साहनी अमर शहीद अमरूद्वीन की प्रतिमा पर पुष्प मालायें चढा कर उन्हैं श्रद्धान्जली दी गई।

बता दें कि 1999 में लद्दाख के कारगिल में वर्फीली पहाडियों पर पाकिस्तान के सैनिक चोरों की तरह आकर हमारे खाली पडे बंकरों में बैठ गये थे। भारतीय सेना को जब पाकिस्तान की इस हिमाकत का पता चला तो भारतीय सेना ने उनको खदेडा शुरू कर दिया।

पाकिस्तान के सैनिक इतनी ऊँचाई पर जमे थे कि उन पर हमारी गोलियों का कोई प्रभाव नहीं पड रहा था। जब सेना को लगा कि उनको भगाना इतना आसान नहीं है तो भारत के तत्कालीन प्रधान मंत्री अटल बिहारी बाजपेई  ने सेना को हवाई हमले करने का आदेश जारी कर दिया।जमीन से बोफोर्स,फील्ड,मीडियम गनों से भारी गोलावारी की जा रही थी तो आसमान से पाकिस्तानियों की मौत बन कर मिराज दो हजार अग्नि वर्षा कर रहा था।

तीन जुलाई को बाईस ग्रेनेडियर की यूनिट को जिसमें कम्पनी क्वार्टर मास्टर हवलदार अमरूद्वीन तैनात थे उन्हैं खालूबार पोस्ट को खाली कराने की जिम्मेवारी दी गई। इसी जिम्मेवारी को निभाते हुये किशनी का यह रणवांकुरा मातृभूमि की वलिवेदी पर शहीद होगया। अमर शहीद अमरूद्वीन की आदमकद प्रतिमा किशनी में ग्वालियर बरेली हाई वे के किनारे उनके नाम से आबंटित अमरूद्वीन गैस ऐजेन्सी के समीप स्थापित की गई है। बुधवार छब्बीस जुलाई कारगिल दिवस के मौके पर क्षेत्राधिकारी परमानन्द पाण्डेय किशनी आये और थानाध्यक्ष शशिकांत के साथ शहीद की प्रतिमा पर पुष्प मालायें पहना कर उन्हें श्रद्धान्जली दी और सैल्यूट किया।

इस मौके पर बोलते हुये क्षेत्राधिकारी ने कहा कि वो लोग सम्मान के काविल है जिन्होंने अपना आज हमारे कल के लिये न्यौछावर कर दिया। शहीद न किसी जाति का होता है और न ही धर्म का। वह तो भारतमाता की कोख से जन्मी वह अमूल्य निधि होती है जो सदैव ही वन्दनीय रहेगा। हे भारत माता के वीर सपूत हम आपको नमन करते हैं। जब क्षेत्राधिकारी भोगांव शहीद की प्रतिमा पर पुष्प माला पहना रहे थे उसी समय भाजपा के जिला महा मंत्री रमाशंकर तिवारी, बॉबी भदौरिया, राजा दुबे, मण्डल अध्यक्ष सुरेन्द्र शाक्य, ध्रुव शाक्य भी शहीद को श्रद्धान्जली देने पहुंचे और उन्होंने भी शहीद की प्रतिमा पर पुष्प मालायें पहनाई। इस मौके पर मौजूद दर्जन भर पुलिस कर्मियों ने भी शहीद को सेल्यूट किया और श्रद्धान्जली दी।

रिपोर्ट- आशीष सक्सेना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here