कस्तूरबा गांधी विद्यालय : पंजीकरण 80 छात्राओं का उपस्थित मात्र 20

बलिया (ब्यूरो) कस्तुरबा गांधी आवासीय विद्यालय बसरिकापुर का निरीक्षण जिलाधिकारी के निर्देश पर तीन अधिकारियों की संयुक्त टीम ने किया। निरीक्षण के दौरान इस विद्यालय पर 80 छात्राओं का पंजीकरण किया गया था परंतु मात्र 20 छात्राएं ही मौजूद थी। इनको पढ़ाने के लिए भी फूलटाइम की डोर व पार्ट टाइम के डोर शिक्षकों की जरूरत है परंतु छात्राएं शिक्षकों के अभाव में ही आवासीय विद्यालय में पढ़ रही है।

दुबहर के खण्ड शिक्षा अधिकारी मोतीचंद चौरसिया, खण्ड विकास अधिकारी राजेश राय तथा बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रीमती नीलम राय ने संयुक्त रूप से बसरिकापुर स्थित कस्तुरबा गांधी आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने पाया कि विद्यालय में 80 छात्राओं का रजिस्टेशन किया गया है, जबकि कक्षा छः व सात एवं आठ मिलकर मात्र 20 छात्राएं ही उपस्थित थी। विद्यालय के वार्डेन नीशा रानी ने बताया कि महाविद्यालय में गृह विज्ञान व कम्प्यूटर साइंस के फूल टाइम शिक्षक की आवश्यकता है परंतु विभाग द्वारा लम्बे समय से इनकी तैनाती नहीं की गयी। इसके अतिरिक्त दो पार्ट टाइम के शिक्षकों की भी जरूरत है। अधिकारियों ने वार्डेन के अलावा बालिकाओं को मिलने वाली सुविधाएं साबुन, सैम्पू, तेल, ब्रस, टूथपेस्ट, कापी, किताब, पेन, तोलिया, जुता, मोजा के अलावे मैन्यू के अनुसार भोजन के बारे में पूछताछ की।

विद्यालय में सोलरलाइट व इनवर्टर की सुविधा तो है परंतु जेनरेटर की सुविधा नहीं है। निरीक्षण के दौरान आचर्श्यजनक बात यह थी कि वर्षों से चल रहे इस महाविद्यालय में विद्युत कनेक्शन नहीं किया गया है। अधिकारियों ने वार्डेन को विद्युत कनेक्शन लेने की प्रक्रिया तत्काल प्रारम्भ करने का निर्देश दिया। इस मौके पर दुबहर के एबीआरसी विद्यासागर गुप्त, अब्दुल अव्वल, विजय प्रकाश, श्रीकांत दुबे, ओमप्रकाश राय मौजूद रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here