धनबाद की धड़कन बंद होने से थम गई कतरास की लाइफ लाइन

0
70

धनबाद/कतरास (ब्यूरो) धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन को भारत सरकार द्वारा हमेशा के लिए बंद किये जाने के बाद गुरुवार को कोयलांचल में उबाल आ गया।डीसी लाइन के नाम से मशहूर जिले की इस लाइफ लाइन के बंद होने से न सिर्फ राजनीतिक दलों के लोग बल्कि आम जनता भी सड़कों पर उतर कर अपना विरोध जताई।धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन बंद करने के विरोध में पूर्व विधायक ओपी लाल द्वारा कोलकाता-दिल्ली मुख्य रेल मार्ग को निचितपुर स्टेशन पर राजधानी एक्सप्रेस सहित मालगाड़ी को भी नहीं चलने देने के आह्वान के बाद पुलिस पहले से पूरी तरह चौकस हो गयी थी।बुधवार की रात जैसे ही धनबाद-चंद्रपुरा रेल मार्ग से वनांचल एक्सप्रेस ट्रेन अंतिम बार गुजरी रात्रि दो बजे कतरास में पुलिस बल की चौकसी बढ़ा दी गयी।सुबह होते-होते कतरास शहर एवं निचितपुर स्टेशन पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है।आंदोलनकारियों से निबटने के लिए पुलिस ने कमर कसी रखी थी।शहर में एक साथ चलने वाले तीन से अधिक लोगों पर नजर रखी जा रही थी।

पूर्व में ही की गई थी अपील
पूर्व विधायक ओपी लाल के निचितपुर स्टेशन को जाम किये जाने के आह्वान के मद्देनजर स्टेशन की चारों ओर से घेराबंदी कर ली गयी थी।ओपी लाल को पुलिस ने स्टेशन पहुंचने के दौरान उन्हें रोक दिया, इस दौरान धक्का-मुक्की भी हुई।बाद में ओपी लाल सहित कई अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया। उधर, संभावित विरोध-प्रदर्शन के मद्देनजर गोमो स्टेशन पर सुरक्षा बढ़ा दी गयी है।धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन बंदी के बाद एेहतियात के तौर पर बांसजोड़ा, सिजुआ, अंगारपथरा, कतरासगढ़, सोनारडीह, तेतुलिया, बरोरा, फुलारीटांड़ एवं तेतुलमारी आदि जगहों पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

पुलिस को चकमा देकर पहुंचे थे निचितपुर
पुलिस ने पूर्व विधायक ओपी लाल को घर से निकलते ही गिरफ्तार करने के तैयारी में थी। पुलिस को चकमा देते हुए ओपी लाल जिंस पैंट, हाफ शर्ट, जैकेट, हेलमेट पहन कर मोटरसाइकिल पर पीछे बैठ कर रेलवे मैदान, भटमुरना, भगतसिंह चौक होते हुए निचितपुर पहुंचे थे।

पूर्व विधायक जलेश्वर महतो को पुलिस ने किया गिरफ्तार
पूर्व विधायक ओपी लाल के गिरफ्तारी के बाद भी बंद समर्थक निचितपुर पहुंचे। वहां फिर से पुलिस के साथ पूर्व विधायक जलेश्वर महतो, जिप सदस्य सुभाष राय के साथ धक्का-मुक्की हुई।हंगामा के बाद पुलिस ने जलेश्वर महतो को भी गिरफ्तार कर लिया। बाघमारा के डीएसपी ने बताया कि कुल 17 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।आगे जो भी रेल लाइन डिस्टर्व करेगा उसे गिरफ्तार किया जायेगा।

कतरास में बंद, हंगामा, तोड़फोड़।
रेल लाइन बंद किये जाने के विरोध में कतरास शहर में बाजार बंद रही वही गुहीबांध में वाहन में तोड़फोड़ की गयी है।पूर्व विधायक ओपी लाल, जलेश्वर महतो की गिरफ्तारी के बाद लोगों ने अपना धैर्य खो दिया है।जगह-जगह तोड़फोड़ की गयी।निचितपुर स्टेशन पर बंद कराने तीसरी बार यहां आंदोलनकारी पहुंचे थे।स्टेशन में तोड़फाेड़ की गयी ।आंदोलनकारियों पर लाठीचार्ज भी की गयी ।

मालगाड़ी रोकी, एलेप्पी एक्सप्रेस के शीशे तोड़े।
गौशाला पुल के पास हजारों की संख्या में ग्रामीणों ने रेल लाइन को जाम कर दिया।गौशाला पुल के पास मालगाड़ी, सवारी गाड़ी को रोक दिया गया गया।लोगों ने एलेप्पी सहित कई ट्रेनों को रोक दिया।एलेप्पी एक्सप्रेस के एसी कोच के शीशे भी तोड़े गये हैं। उपद्रव की सूचना मिलते ही जिला पुलिस के साथ ही रेल पुलिस भी रेस हो गई और उन्हें खदेड़ दिया गया इस दौरान उपद्रवियों ने राजगंज कतरास मुख्य पथ पर टायर जलाकर मार्ग अवरुद्ध करने का प्रयास भी किया पुलिस की सक्रियता के कारण ज्यादा नुकसान नहीं उठाया।

रिपोर्ट – गणेश कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY