खनिज रोवाल्टी रिकार्ड तोड़ महंगी बिकने को आमदा

0
59

कबरई(महोबा) कस्बा पत्थर नगरी जो पत्थर मन्डी के नाम से प्रसिद्ध है यहाँ पर हर लूट एक आम बात बन गई है जो की फिर चाहे किसी भी प्रकार की लूट हो जिसमें खनिज का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है | इस नगरी पर ज्यादा असर अब होने लगा है जिससे कबरई मे संचालित सैकड़ों क्रेशर प्लान्ट जिनकी गिट्टी हर जगह सप्लाई होती है अब वही क्रेशर प्लान्ट बन्द होने की कगार पर है |

इन सबका कारण खनिज रोवाल्टी है जो की आज अपने सबसे ज्यादा रेट पर बिकने को आमदा है जिसका मानक रेट 188 रुपऐ घन मीटर है वह आज पूरी मन्डी को 425 रुपऐ के रेट पर बिक रही है जिसका सबसे ज्यादा असर क्रेशरो पर पड रहा है जो इस हाई रेट के चलते अब क्रेशरो के बन्द होने के कगार पर है जिसका सबसे ज्यादा असर कबरई पत्थर मन्डी पर पडेगा जिसका असर यहाँ पर कार्य करने वाले मजदूरो पर भी पडेगा क्योंकि अगर क्रेशर बन्द हो गई तो सब जो वहाँ पर रोजगार के रुप मे लगे हुऐ है उनकी जीवीका पर विषेस असर पडेगा। अब सवाल यह है की खनिज रोवाल्टी का रेट बढने का जिम्मेदार कौन है ? तथा इसका कारण क्या है ? यह सवाल सबके जहन मे उठ रहा है क्या सुधरेगी यह स्थिति या ऐसे ही मचेगी लूट तथा बिकती रहेगी हाई रेट मे खनिज रोवाल्टी।

रिपोर्ट – प्रदीप मिश्रा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY