प्रतापगढ़ में क्राइम रोकने में खाकी हो रही है फेल

प्रतापगढ़ (ब्यूरो) – अभी दो सगे व्यापारी भाइयों के मर्डर की गुत्थी सुलझाने पुलिस उलझी हुई है कि गड़वारा बाजार में पति पत्नी की हत्याओं से जिले में सनसनी फैल गई रही सही कमी जगेसरगंज बाजार के ग्रामीण बैंक की लाखों की लूट को बदमासों ने पूरी कर दी आई जी मोहित अग्रवाल ने जिले में कैंप करके अपराध को कंट्रोल करने की कोशिश जरूर की कुछ मोटरसाइकिल चोर पकड़ कर तो कुछ अवैध असलहों के साथ अपराधियों को पकड़ कर पुलिस अपनी पीठ थपथपई कुछ वारन्टी को गिरफ्तार करने के होड़ में लालगंज की पुलिस ने रामपुर के एक दलित के यहाँ जाकर खूब तांडव मचाया जैसा की पीड़ित का आरोप लगा रहा था|

बाद में इंस्पेक्टर साहब को ज़बानत का पेपर दिखाने पर वापस लौट आए बीच मे टाइनी शाखा के संचालन करने वालों को लालगंज थाना क्षेत्र में लूटा गया उसका भी खुलासा नहीं हो सका वहीं लालगंज थाना छेत्र में अमीन की संदिग्ध अवस्था मे लास बरामद बरामद हुईं उसका खुलासा नही पूरे वीरबल में यूवक की लास फाँसी पर लटकती हुईं बाग में मिली उसका भी खुलासा नही शराब के अवैध करोबारी प्रतापगढ़ में सक्रिय रहते है परन्तु उस पर भी लगाम कसने में पुलिस कामयाब नहीं हो रही है कार्यवाही के नाम पर कुछ छोटे लोगों को पकड़ कर पुलिस जेल जरूर भेज देती है प्रताप गढ मे अपराधियों का बोल बाला|

रिपोर्ट – अवनीश कुमार मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here