खुलेआम छात्र-छात्राओं के भविष्य के साथ हो रहा खिलवाड़

0
185

ambedkarnagar

अंबेडकरनगर (ब्यूरो)- कई प्रयासों के बाद भी नहीं हो सका जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से दूरभाष पर सम्पर्क। बताते चलें कि, कटेहरी ब्लाक अन्तर्गत स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कटेहरी के सामने एक रेन्ट के मकान में नेशनल डिजिटल साक्षरता अभियान के तहत कथित तौर पर साक्षात्कार के बहाने छात्र-छात्राओं अपने ठगी के जाल में फंसाने का सिलसिला जारी है। स्थिति ऐसी है कि बीते एक सप्ताह से लगभग हजारो की संख्या में अभ्यर्थियों का साक्षात्कार किया जा चुका है।

जिसमें लॉलीपॉप देने का सबसे आसान तरीका और फण्डा यह अपनाया गया है कि छात्र- छात्राओ को बुलाने के लिए योग्यता इंटर पास व कम्प्यूटर कोर्स की मांग की गयी है। छात्र-छात्राओं का खुलेआम साक्षात्कार हो रहा है लेकिन इसके बारे में जिले के अधिकारियों को भनक तक नहीं लग पाया अभी तक। छात्रों का साक्षात्कार ले रहे कम्प्यूटर अध्यापक डीके सागर से पूछा गया कि साक्षात्कार दे रहे इन छात्रों को किस पद पर तैनाती दी जायेगी ।

अपने बयान में अध्यापक डी के सागर ने बताया कि प्राथमिक विद्यालयों में कम्प्यूटर पद पर नियुक्ति दी जायेगी। जो स्कूल के बच्चों को कम्प्यूटर की शिक्षा देंगे। इस संदर्भ में जब जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से दूरभाष पर सम्पर्क करने का प्रयास किया गया तो कई बार प्रयास करने पर भी सम्पर्क नहीं हो सका। वहीं क्षेत्र में चर्चा का बाजार गर्म है। सबसे हैरानी की बात यह है कि जिले के जिम्मेदारानों के नाकों तले यह कृत्य किया जा रहा है। जो सीधे आचार संहिता का उल्लंघन और आचार संहिता की धज्जियाँ उडा रहा है। लेकिन सम्बन्धित विभाग के अलावा जिले सभी जिम्मेदारान अधिकारी मौन साधे हुए है। आखिरकार फ्राडगिरी और प्रशासन के आँखों में कबतक इस तरह से धूल झोका जाता रहेगा और बेरोजगारों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जाएगा। यह एक विचारणीय प्रश्न बन कर रह गया है।

रिपोर्ट-सर्वेश गुप्ता

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here