कोतवाली पट्टी में खूब हो रही हैं धन उगाही

0
98

पट्टी/प्रतापगढ़ (ब्यूरो)- जिले के दुबौली सुखऊ गांव के रोहित सुत इंद्रपाल ने जिले के ही पुलिस के ऊपर आरोप लगाया है कि पुलिस ने चालान करने के लिए उनसे 3000 रूपये रिश्वत की डिमांड की है तथा रिश्वत न मिलने पर पुलिस ने पीड़ित के सम्बन्धी को पांच दिनों तक थाने में बंद करके रखा था |

मोबाइल में कर लिया सब कुछ रिकार्ड –
पीड़ित ने बताया है कि उसने इस पूरे घटनाक्रम को अपने मोबाइल फ़ोन में रिकार्ड कर लिया है | बताया जा रहा है कि पीड़ित ने जब तक पुलिस को सम्बंधित मामले में पैसे नहीं पहुचाए तब तक पुलिस ने उनके सम्बन्धी का चालान नहीं भेजा लेकिन जैसे ही पुलिस को पैसे दे दिए गए पुलिस ने उक्त मामले पर तत्काल चालान भेज दिया है |

पीड़ित के द्वारा उक्त मामले की शिकायत जिले के आलाधिकारियों से भी की गयी लेकिन अभी तक इस मामले में कोई भी कार्यवाही नहीं की गयी है | प्राप्त जानकारी के आधार पर आपको बता दें कि 24 जून को राम सिंह पुत्र अर्जुन व् राजेन्द्र पुत्र राम लाल के बीच जमीन कब्जे को ले कर विबाद हो गया था जिसमे राम सिंह ने डायल 100 को सूचना दी सूचना पर कोतवाली से डायल 100 मौके पर पहुच कर राम सिंह व् राजेंद्र को जीप में बैठा लिया और पीड़ित नदी के किनारे हनुमान मन्दिर पर पेंटिंग कर रहा था डायल 100 के सिपाही मन्दिर पहुँच कर पीड़ित को गाली देना शुरू कर दिया और खींच कर गाड़ी में बैठा लिया और कोतवाली ले कर आ गये और बैठा दिया फिर पीड़ित के घर के लोगो ने कोतवाली पहुच कर गिरफ्तारी का कारण पूछा तो वहा पर मौजूद दरोगा ने कहा हम चालान करेंगे लेकिन पांच दिन बाद जल्द चालान कराने के लिये एक सिपाही चलान करवाने के तीन हजार दो सौ रुपये का ठेका लिया तब पीड़ित का चलान किया गया |

रिपोर्ट- सूरज वर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY