कुमार मंगलम : ई-कॉमर्स के मोटे डिस्काउंट का खेल ज्यादा समय तक नहीं चलेगा

0
223
फोटो क्रेडिट - बिज़नेस टुडे
फोटो क्रेडिट – बिज़नेस टुडे

http://ahmadiyyapress.com/priority/bagetnaya-masterskaya-volzhskiy-bulvar.html багетная мастерская волжский бульвар आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने कहा जिस तरह इंडियन ई-रिटेलर्स मोटा डिस्काउंट दे रहें हैं इस मॉडल पर ज्यादा दिनों तक बिजनेस नहीं कर सकेंगे क्योंकि इन कंपनियों में पैसा लगाने वाले निवेशक निश्चित तौर पर कभी न कभी रिटर्न की मांग करेंगे। बिड़ला ने ग्रॉसरी रिटेलर्स को बराबरी का मौका दिए जाने की अपील भी की।

http://www.puply.com/meest/sonar-pn-15-shema.html сонар пн 15 схема

http://constell-group.com/priority/vavilon-5-akteri.html вавилон 5 актеры बिड़ला ने ईटी को एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा, ‘मुझे हैरत होती है कि ई-कॉमर्स इस तरह कैसे चलाया जा सकता है। मुझे वैल्यूएशन का खेल पता है। आखिरकार फाइनैंशल इनवेस्टर को रिटर्न भी तो चाहिए होगा। एक बात तो पक्की है कि अनलिमिटेड फंडिंग तो नहीं हो सकती है। इसे देखते हुए इस मोटे डिस्काउंट वाले मॉडल के टिकाऊ होने पर मेरे मन में सवाल उठता है।’

телефон huawei 3g

лагерь ялта зай в заинске на карте बिड़ला ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि इसकी क्षमता के आकलन के लिए एक साल पर्याप्त नहीं है। उन्होंने कहा, ‘किसी भी बदहाल बिजनेस या कंपनी की सूरत एक साल में बदलने की बात हकीकत से परे है। मुझे इस सरकार पर बहुत भरोसा है। मेरा मानना है कि वे काफी काम कर रहे हैं, जिनके बारे में हमें पता नहीं है।’

как правильно сажать проросшие огурцы

http://demo4.interisti.si/priority/gde-nahoditsya-rele-starterana-vaz-2110.html где находится реле стартерана ваз 2110 अगले कुछ वर्षों में आदित्य बिड़ला ग्रुप अपने नॉन-कमोडिटी बिजनेस में ज्यादा निवेश करेगा। इसमें आइडिया सेल्युलर में 7 अरब डॉलर का निवेश भी शामिल होगा। ग्रुप ने हेल्थ इंश्योरेंस और हाउसिंग फाइनेंस सेक्टर्स में एंट्री करने और आरबीआई से लाइसेंस मिलने पर एक पेमेंट बैंक शुरू करने की योजना भी बनाई है।

http://athengreel.com/priority/kak-sdelat-derevyannuyu-lestnitsu-dlya-kriltsa.html как сделать деревянную лестницу для крыльца