लापरवाह विद्यालय प्रशासन पर कौन कसेगा नकेल

0
134

लालगंज/प्रतापगढ़ (ब्यूरो)- कभी भी हो सकती है एटा जैसी घटना अधिकांश विद्यालयो में डग्गामार वाहनो का धड़ल्ले से हो रहा इस्तेमाल| आपको बता दें कि नपद के तमाम निजी स्कूलो में प्रयुक्त वाहनों की हालत बदतर है| मासूमो की जान जोखिम में डालकर विद्यालय संचालक खुद तो मालामाल हो रहे हैं लेकिन अगर उनके उन वाहनों पे नजर डाली जाय जिसका प्रयोग वो विद्यालय वाहन के तौर पर कर रहे है तो बहुत भयावह तस्वीर सामने आती है |

जिन डग्गामार वाहनों का उपयोग हो रहा है वो कतई प्रयोग करने लायक नहीं है। भयावह हो चुकी इस कहानी में सबसे खतरनाक है सम्बंधित विभाग के अधिकारिओ की अनदेखी जो कभी भी एटा जैसी वीभत्स घटना को घटित होने के लिए विवश कर रहे है | इस तरह की स्थिति को देखकर यह सवाल खड़ा होता है कि आखिर क्यों इस गंभीर विषय की अनदेखी की जा रही है| अधिसूचना के बाद सक्रिय हुई पुलिस क्या कभी ऐसे वाहनों को चेक करेगी जिस पर भारत का भविष्य ढोया जा रहा है |
रिपोर्ट- डॉ. आर. आर. शुक्ल

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here