देश बचाओ’ नहीं ‘बेनामी संपत्ति बचाओ रैली’ करने जा रहे हैं लालू

0
118


पटना ब्यूरो : लालू प्रसाद पर भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी का हमला लगातार जारी है, 27 अगस्त को होने वाली लालू प्रसाद की रैली पर सुशील मोदी ने हमला बोला है, सुमो ने कहा कि लालू प्रसाद देश बचाओं नहीं ‘बेनामी सम्पति बचाओं रैली’ आयोजित करने जा रहे हैं |

उन्होंने कहा कि रैली के जरिए लालू प्रसाद चारा घोटाले व रेलमंत्रित्व काल में अर्जित अपनी अकूत बेनामी सम्पति को बचाना चाहते हैं. सुमो ने आगे कहा कि सत्ता हमेशा से लालू प्रसाद के लिए गरीबों का कल्याण नहीं बल्कि लूट का लाइसेंस बन कर रही है, रैली-रैला के जरिए लालू प्रसाद चाहे जितनी कोशिश कर लें उनकी बेनामी सम्पति बचने वाली नहीं है, बता दें कि लालू प्रसाद 27 अगस्त को भाजपा हटाओ- देश बचाओ रैली करने जा रहे हैं |

सुशील मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार और मुखौटा कम्पनियों के जरिए अकूत बेनामी सम्पति एकत्र करने वालों में केन्द्र सरकार की कार्रवाई से हड़कम्प है, लालू प्रसाद के साथ नोटबंदी का जोर-शोर से विरोध करने वाले ममता बनर्जी, मायावती और अखिलेश यादव जैसे लोग अब रैली के नाम पर बेनामी सम्पति को बचाने के लिए एकजुट हो रहे हैं |
सुमो ने आगे कहा कि लालू प्रसाद ने यह तो स्वीकार कर लिया है कि पटना में बन रहे बिहार का सबसे बड़ा 750 करोड़ का मॉल उनका है मगर अब तक चुप्पी साध कर लालू परिवार ने यह भी मान लिया है कि दिल्ली के बिजवासन, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी, सैनिक फार्म की कई सौ करोड़ की प्रोपर्टी के साथ ही औरंगाबाद की 54 डिसमिल जमीन, पटना में कत्याल की जमीन पर निर्माणाधीन पेट्रोल पम्प तथा जी बी मॉल जैसी तमाम बेनामी सम्पति के वे ही मालिक हैं |

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद केन्द्र सरकार से बेनामी सम्पति के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करने वाले नीतीश कुमार की लालू परिवार की हजार करोड़ की बेनामी सम्पति उजागर होने के बाद धिग्गी बंध गई है, अगर लालू प्रसाद की रैली में मुख्यमंत्री शामिल होते हैं तो इसका मतलब है कि बेनामी सम्पति के खिलाफ कार्रवाई की उनकी मांग ढकोसला थी और अब वे भ्रष्टाचारियों के समर्थन में खड़े हैं |

रिपोर्ट – आशुतोष कुमार सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here