मतदान के दिन आरजकता फैलाने वालो से सख्ती से निपटा जायेगा – जिला निर्वाचन अधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी 

0
136

jaunpur
जौनपुर। : विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2017 को सकुशल, शान्तिपूर्ण, निष्पक्ष सम्पन्न कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी एवं पुलिस अधीक्षक अतुल सक्सेना ने आज टी.डी. इण्टर कालेज में जिले के सभी कोटेदारों को प्रशिक्षण दिया। जिला निर्वाचन अधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी ने बताया कि इस बार राशन कार्ड मतदान के लिए नही मान्य है। अपने क्षेत्र में आप सब कोटेदारों का जनता में एक सम्मान है इस चुनाव को निष्पक्ष सम्पन्न कराने के लिए आप सब का विशेष योगदान रहता है इस लिए आप सब का दायित्व है अपने क्षेत्र के राशन कार्ड धारकों को अवगत कराये की अबकी बार यह राशन कार्ड मतदान के लिए पहचान पत्र के रुप में काम नही करेगा। बल्कि मतदाता पहचान पत्र के अतिरिक्त भारत निर्वाचन आयोग के अनुमोदित पहचान दस्तावेज में से किसी एक पहचान पत्र से ही चुनाव मतदान किया जा सकता है जिसमें चुनाव फोटो पहचान पत्र, पासपोर्ट, ड्राईविंग लाइसेंस, केन्द्र/राज्य सरकार द्वारा/सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों/पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी फोटो युक्त पहचान पत्र, बैंक/पोस्ट आफिस द्वारा जारी फोटो युक्त पासबुक, पैन कार्ड, आधार कार्ड, एनपीआर के तहत आरजीआई द्वारा जारी किये गए स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटो युक्त पेंशन दस्तावेज, निर्वाचन आयोग द्वारा जारी प्रमाणित फोटो मतदाता पर्ची, सांसद विधायको/विधान परिषद सदस्यों को जारी किये गये सरकारी पहचान पत्र से मतदान किया जा सकता है। जिले के किसी भी नागरिक के पास से 50 हजार रुपये से अधिक की धनराशि वाहन चेकिंग में पाये जाने पर बैंक की निकासी रसीद एवं अन्य विधिमान्य साक्ष्य उपलब्घ न कराने पर जब्त कर लिया जायेगा। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि पंचायत चुनाव में उटरुकला, रजमलपुर, महरुपुर में आराजक तत्वों द्वारा निर्वाचन कार्य में पानी डालने, वाहन जलाने आदि के मामले में कठोर कार्यवाही की गयी है तथा न्यायालय में उनके विरुद्ध मुकदमा चल रहा है। उन्होंने बताया कि कन्ट्रोल आदर्श आचार संहिता का स्वयं पालन करें तथा अपने क्षेत्र में भी पालन करने के लिए प्रेरित करे। किसी भी प्रत्याशी द्वारा रुपया, दारु, कपडा, गिफ्ट आदि बाटने की सूचना पर तत्काल जिला निर्वाचन कार्यालय के कन्ट्रोल रुम नं0 05452-261311, 261312, 261314, 261315, 261316, 261317, 261318, 261319, 261320 एवं टोल फ्री नम्बर 18001801616 पर चुनाव सम्बन्धी सूचना दी जा सकती है। कोटेदारों को मतदान के लिए 12 विकल्प का पोस्टर एवं मतदान के तरीके का पोस्टर भी इस निर्देश के साथ दिया गया है कि अपने दूकान सहित क्षेत्र में चस्पा करे।  

पुलिस अधीक्षक अतुल सक्सेना ने बताया कि आप सभी कोटेदारों को दिये गये निर्देश के अनुसार आप कार्य करेंगे तथा पुलिस सम्बन्धी शिकायत के लिए पुलिस कन्ट्रोल रुम खुला हुआ है जिसका टोलफ्री नम्बर 100 तथा निर्वाचन कन्ट्रोल रुम जौनपुर टोलफ्री नम्बर 18001801616 पर किसी भी सूचना एवं कानून व्यवस्था सम्बन्धी समस्या हेतु संपर्क किया जा सकता है। इसीप्रकार अपने से सम्बन्धित थानाध्यक्ष, क्षेत्राधिकारी के मोबाइल नम्बर पर भी सूचना दी जा सकती है। पुलिस प्रशासन का पूरा सहयोग आपसब के साथ रहेगा। भारी संख्या में केन्द्रीय सुरक्षा बल के जवान भी चुनाव कराने के लिए मतदान केन्द्रों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में उपलब्ध रहेंगे। सभी बार्डर के स्थानों, थानों एवं अन्य प्रमुख स्थानों पर बैरियर लगाकर पुलिस द्वारा आने जाने वाले वाहनों की चेकिंग की जा रही है। किसी भी गरीब, निर्बल व्यक्ति को मतदान करने से कोई भी व्यक्ति नही रोक सकता है चाहे वह जितना बड़ा प्रभावशाली या माफिया हो। उन्होंने सभी से अपील किया कि 8 मार्च को 95 प्रतिशत मतदान करें। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जौनपुर जिले को भारी संख्या में पैरामेलेट्री फोर्स उपलब्ध कराई जा रही है किसी भी मतदान केन्द्र पर सुरक्षा के लिए लाइट मशीन गन, ग्रेनेड सहित अति आधुनिक असलहों के साथ सुरक्षाबल तैनात रहेगा। उन्होंने बताया कि गत त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में 29 लोगों के विरुध न्यायालय में मुकदमा चल रहा है। 

मुख्य राजस्व अधिकारी आशुतोष अग्नोहत्री ने बताया कि आर ओ से अनुमति प्राप्त 10 वाहन ही एक साथ काफिले में चल सकते है। उन्होंने बताया कि राजनैतिक दलों और उम्मीदवारों के मार्गदर्शन के लिए आदर्श आचार संहिता में सामान्य आचरण में कोई दल या उम्मीदवार ऐसे किसी क्रियाकलाप में सम्मिलित नहीं होगा जिससे विद्यमान अन्तर्विरोधों में वृद्धि होने या पारस्परिक घृणा उत्पन्न होने या विभिन्न धार्मिक या भाषायी जातियों और सम्प्रदायों के मध्य तनाव उत्पन्न होने की सम्भावना हो, जब भी अन्य राजनैतिक दलों की आलोचना की जाय, तब उक्त आलोचना उनकी नीतियों तथा कार्यक्रमों, पूर्व अभिलेखों और कार्यों तक सीमित रहे। राजनैतिक दलों और उम्मीदवारों को अन्य राजनैतिक दलों के नेताओं या कार्यकर्ताओं के सार्वजनिक क्रियाकलापों से असम्बद्ध निजी जीवन के समस्त पहलुओं पर आलोचना करने से बचना होगा। मिथ्या आरोपों या मिथ्या वर्णन पर आधारित अन्य दलों या उनके कार्यकताओं की आलोचना करने से बचना होगा, मत प्राप्त करने के लिए जातिगत या साम्प्रदायिक भावनाओं की अपील नहीं की जायेगी। मस्जिदों, गिरजाघरों, मन्दिरों या अन्य पूजा स्थलों का प्रयोग निर्वाचन अभियान के मंच के रूप में नहीं किया जायेगा, समस्त राजनैतिक दल और उम्मीदवार कर्तव्यनिष्ठापूर्वक ऐसे समस्त क्रियाकलापों से दूर रहेंगे जो निर्वाचन विधि के अधीन भ्रष्ट प्रथायें और अपराध है, यथा मतदाताओं को रिश्वत देना, मतदाताओं को डराना-धमकाना, मतदाताओं का प्रतिरूपण, मतदान केन्द्रों से 100 मीटर के भीतर मत देने की संयाचना करना, शान्तिपूर्ण और विघ्नरहित घरेलू जीवन-यापन के लिए प्रत्येक व्यक्ति के अधिकार का समादर किया जायेगा, तथापि चाहे राजनैतिक दल या उम्मीदवार उसके राजनैतिक विचारों या क्रियाकलापों के कितने ही विरूद्ध क्यों न हों। व्यक्तियों के विचारों या क्रियाकलापों के विरूद्ध आक्रोश प्रकट करके उनके घरों के समझ धरना या प्रदर्शन का आश्रय किसी भी परिस्थिति में नहीं लिया जायेगा, कोई भी राजनैतिक दल या उम्मीदवार, अपने अनुयायियों को किसी व्यक्ति की भूमि, भवन, अहाते आदि में उस व्यक्ति की अनुमति के बिना ध्वज दण्ड खड़ा करने, बैनर टांगने, सूचना चिपकाने, नारे आदि लिखने की अनुमति नहीं देगा, राजनैतिक दल और उम्मीदवार, यह सुनिश्चित करेंगे कि अन्य दलों द्वारा आयोजित सभाओं और जुलूसों में उनके समर्थक कोई व्यवधान या विघ्न नहीं डालेंगे। किसी राजनैतिक दल के कार्यकर्ता या शुभचिन्तक अन्य राजनैतिक दल द्वारा आयोजित सार्वजनिक सभाओं में मौखिक या लिखित रूप में प्रश्न पूॅछ कर अथवा अपने दल के पर्चे वितरित करके शांति भंग नहीं करेंगे। किसी दल द्वारा जुलूस उन स्थानों से होकर नहीं ले जाया जायेगा। जिन स्थानों पर अन्य दल द्वारा सभायें की जा रही हों, किसी दल द्वारा निर्गत किये पोस्टरों को अन्य दल के कार्यकर्ताओं द्वारा हटाया नहीं जायेगा। प्रभारी अधिकारी मतदान कार्मिक शीतला प्रसाद श्रीवास्तव ने डीएम, एसपी का स्वागत किया तथा वीवी पैट एवं ईवीएम के बारे में चल चित्र के माध्यम से अवगत कराया गया।

रिपोर्ट–डा०अमित कुमार पाण्डेय

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here