शराब की दुकान का विरोध कर रही महिलाओं पर मुकदमा दर्ज

0
101
शराब ठेकों के विरुद्ध प्रदर्शन करती महिलाएं

बलिया (ब्यूरो)- सुखपुरा थाना क्षेत्र ब्रम्हमाईन गांव के समीप शंकरपुर रोड पर शराब की दुकान स्थापित करने पर दुकान पर हमला करने एवं जाम करने वालों पर सुखपुरा पुलिस ने शराब दुकानदार की तहरीर पर 20 नामजद सहित दर्जन भर अज्ञात लोगों पर सोमवार की रात विभिन्न धाराओं में सुखपुरा पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। इसमें लगभग आधा दर्जन महिलाएं भी है।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर राज्य एवं राष्ट्र सड़क राज्य मार्ग से शराब की दुकानों का हटाने का क्रम चल रहा है। इसी क्रम में हनुमानगंज में राज्य मार्ग के समीप पूर्व में चल रहे शराब की दुकाने को ब्रम्हमाईन शंकरपुर रोड पर स्थापित किया गया। दुकान स्थापित होने के साथ ही क्षेत्र के लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और महिलाओं ने दुकान को क्षतिग्रस्त करने के साथ-साथ उन्होंने बलिया-सिकन्दरपुर मार्ग पर धरने पर बैठ गये।

सीओ प्रवीण कुमार सिंह, थानाध्यक्ष रत्नेश कुमार सिंह, चौकी इंचार्ज हनुमानगंज करूणेश कुमार सिंह ने आक्रोशित लोगों को किसी तरह समझा-बुझाकर शांत कराया। इसीबीच दुकान के सैल्समैन ने दुकान को क्षतिग्रस्त करने व जान से मारने की नामजद तहरीर दिया। जिस पर मुकदमा पंजीकृत करते हुए जांच की कार्रवाई शुरू कर दी है। धारा-143, 427, 506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।

दुकानदार ने महिलाओं को पीटा –
आबादी क्षेत्र में शराब की दुकान लगने से वहां की महिलाएं आक्रोशित हो गयी और दुकान को स्थापित होने पर विरोध करने लगी तथा सिकन्दरपुर-बलिया मार्ग हनुमानगंज पर धरने पर बैठ गयी जिस पर वहां के स्थानीय शराब के विक्रेता तथाकथित कुछ असामाजिक तत्वों का सहारा लेकर लाठी-डंडे से शराब की दुकान आबादी क्षेत्र में लगाने का विरोध कर रही महिलाओं पर हमला बोल दिया। उनको बुरी तरह मारपीट कर घायल कर दिया।

आरोप है कि पुलिस की मिलीभगत से गलत कार्य का विरोध कर रही महिलाओं पर मुकदमा दर्ज करा दिया। स्थानीय लोगों का आरोप है कि हनुमानगंज क्षेत्र में कई स्थानों पर देशी एवं अंग्रेजी शराब मिलावट के साथ अधिक मूल्य पर बेची जा रही है। अगर इस पर नियंत्रण नहीं किया गया तो क्षेत्रीय जनता कभी भी सड़क पर उतर सकती है और स्थिति भयावह हो सकती है।

रिपोर्ट- संतोष कुमार 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY