वकीलों ने सीजेएम के कार्य व्यवहार पर जमकर विरोध जताया

0
52

सुलतानपुर(ब्यूरो)- अदालत में मुकदमें की सुनवाई के दौरान अधिवक्ताओं के साथ उचित व्यवहार न करने पर अधिवक्ता संघ ने सीजेएम विजय कुमार आजाद के स्थानांतरण न होने तक उनकी अदालत के कार्य बहिष्कार का फैसला लिया है। बुधवार को हुई हंगामेदार बैठक में निर्णय लिया गया कि उनकी शिकायत उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायमूर्ति व निरीक्षक न्यायमूर्ति से की जायेगी।

सिविल कोर्ट परिसर स्थित सभाकक्ष में बुधवार को अधिवक्ताओ ने बैठक की। इस दौरान वकीलों ने सीजेएम के कार्य व्यवहार पर जमकर विरोध जताया एवं बीते 10 मई को हुए बहिष्कार के दिन सीजेएम के जरिये ख़ारिज की गई अर्जियों व खिलाफ में की गई कार्यवाहियों को जानबूझकर अधिवक्ता, वादकारियों के हित के खिलाफ किया जाना बताया गया।

सभी वक्ताओं ने उनके इस कृत्य की निंदा की और साथ ही संघ के पूर्व अध्यक्षगण राम किशोर पाण्डेय, प्रेमनाथ पाण्डेय, राम विशाल तिवारी की समिति गठित की गई है| जो जानबूझकर 10 मई को न्याय के प्रतिकूल किए गए आदेशों की जानकारी लेंगे तथा सीजेएम द्वारा लिए गए निर्णयों की प्रमाणित प्रतियां भी हासिल करेंगे।

इस संबंध में 23 मई को इलाहाबाद जाकर मुख्य न्यायाधीश व निरीक्षक जज से एक प्रतिनिधि मण्डल मुलाकात करेगा और उन्हें सीजेएम के कृत्यों से अवगत करायेगा।

बैठक में अध्यक्ष अरूण कुमार उपाध्याय, महासचिव राम अछैवर तिवारी,रामविशाल तिवारी,श्रवण पाण्डेय, भवानी तिवारी, अमर बहादुर दूबे, सहित सैकड़ों वकील मौजूद रहे।

रिपोर्ट-दीपक मिश्रा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY