अनाथ बच्ची को गोद लेगा विधिक सेवा प्राधिकरण

0
89

 

रायबरेली (ब्यूरो)- हादसे में मारे गए शिवराम की अनाथ बची बच्ची की मदद में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण आगे आया है। प्राधिकरण के सचिव अभिषेक उपाध्याय बुधवार को शिवराम के घर पहुंचे और बच्ची के बारे में जानकारी ली। उन्होने बच्ची की दादी को निशुल्क कानूनी मदद का भरोसा दिया। उन्होने दादी की विधवा पेंशन बंधवाने के साथ मोटर दुर्घटना क्लेम का केस प्राधिकरण की तरफ से ही दायर कराने का आश्वासन दिया।

श्री उपाध्याय पूर्वान्ह करीब 11 बजे शिवराम के गढ़ी खास गांव स्थित घर पहुंचे। शिवराम के पुश्तैनी घर में ताला लगा था। उस वक्त अपने सिर से मां और पिता का साया उठ जाने से अनजान छह साल की प्रीति अपनी चचेरी बहनों के साथ खेल रही थी। विधवा दादी मोहाना, प्रीति के चाचा और घरवाले घर के काम में जुटे थे। चचेरी बहनों और बुआ के साथ आई प्रीति ने श्री उपाध्याय के पूछने पर उसने कहा-मम्मी और पापा बाजार गए हैं। उसने यह भी कहा कि वह पढ़ना चाहती है।

अनाथ बच्ची प्रीति की परवरिश अब दादी मोहाना करेगी। दादी ने कहा कि वह शिवराम के घर में रहकर प्रीति को पाले-पोसेगी। मोहाना के पति रामखेलावन का तीन साल पहले निधन हो गया था। विधवा मोहाना को वृद्धावस्था पेंशन मिलती है न विधवा। यह सुनकर विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव दंग रह गए। मोहाना ने सचिव से कहा कि अगर पेंशन मिलने लगे प्रीति की परवरिश में आसानी हो जाएगी क्योंकि जमीन केवल तीन बिसवा ही है।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here