जमीन और दामाद के चलते संसद शुक्रवार तक के लिये स्थगित

0
279

parliament of india संसद का मानसून सत्र प्रारंभ हुए आज तीसरे दिन भी भारी हंगामें के चलते स्थगित करना पड़ा, आज सुबह जैसे ही संसद में कार्यवाही प्रारंभ हुई उसके तुरंत बाद ही संसद के भीतर कांग्रेस के सांसद अपनी भुजाओं और माथे पर काली पट्टी बांधे हुए पहुंचे और अपनी उसी पुरानी मांग पर डटे रहे और इस गतिरोध के चलते सबसे पहले संसद को दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया I

संसद का दोबारा से सत्र जब 12 बजे शुरू हुआ तो संसद के भीतर भाजपा के सांसद हाथों में प्लेयिंग कार्ड्स लेकर पहुंचे जिनपर साफ़ तौर पर लिखा हुआ था कि, “उल्टा चोर कोतवाल को डांटे, सरकारी जमीन दामाद को बाँटे” और इसके बाद दोनों तरफ से तीखी प्रतिक्रिया दी गयी और तभी राजस्थान के सांसद अर्जुन मेघवाल ने सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा के द्वारा की गयी फेसबुक पर टिप्पड़ी को संसद के भीतर उठा दिया जिससे माहौल और अधिक बिगड़ गया I

सांसद अर्जुन मेघवाल ने राबर्ट वाड्रा के ऊपर आरोप लगाते हुए कहा हैं कि राबर्ट ने भारत की संसद का अपमान किया हैं और इतना ही नहीं इसीके साथ उन्होंने राबर्ट वाड्रा के खिलाफ विशेषाधिकार प्रस्ताव का नोटिस दिया, जिस पर लोकसभा स्पीकर ने कहा, ‘प्रिविलेज नोटिस मिला है. देखेंगे.’ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने नोटिस स्वीकार किए जाने पर स्पीकर के समक्ष इसका विरोध भी जताया हैं I

 

और इन्ही मामलों के चलते एक बार फिर से संसद में हंगामा हो गया जिसके चलते लोकसभा स्पीकर श्रीमती महाजन ने कहा कि जब आप लोग संसद को चलने ही नहीं दे रहे हैं तो मैं इसे स्थगित ही कर देती हूँ, इस तरह से इसे चलाने का क्या फायदा हैं I

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here