विधायक ने नगर आयुक्त को सौंपा ज्ञापन

0
129

देहरादून शहर की सफाई व्यवस्था लगातार बिगड़ती जा रही है, जिनकी आए दिन जनता द्वारा शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। जिनका संज्ञान लेते हुए राजपुर रोड़ विधानसभा से पूर्व विधायक राजकुमार द्वारा पार्षदगण एवं पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ नगर आयुक्त नगर निगम से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में मुख्य रूप से निम्न बिन्दुओं पर विस्तृत चर्चा की गई। जिस पर मौके पर मौजूद नगर आयुक्त रवनीत चीमा ने उचित कार्यवाही किए जाने का आश्वासन दिया।

1- नगर निगम क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले वार्डों की सीमा एवं आबादी के आधार पर सफाई कर्मचारीयों की नियुक्ति की जाए।

2- शहर के प्रत्येक घर, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, बाजार की दुकानों के साथ ही मलिन बस्तियों में स्थित घरों से भी डोर-टू-डोर कूड़ा उठवाया जाए।

3- शहर की प्रमुख नदियों रिस्पना व बिन्दाल की सफाई करवाने हेतु पूर्व में विधायक निधि द्वारा धनराशि अवमुक्त की गई थी तो नदीयों की सफाई की गई, लेकिन वर्तमान तक नगर निगम द्वारा सफाई को लेकर कोई ऐसा कदम नहीं उठाया गया जिससे नदियों की सफाई व्यवस्था में जरा भी सुधार आया हो।

4- वर्षों से लम्बित गांधी पार्क एवं शहर की ऐतिहासिक धरोहर घण्टाघर के सौन्दर्यीकरण का कार्य प्रारम्भ किया जाए।

5- शहर के कूड़े के लिए ट्रेंचिंग ग्राउण्ड का कार्य शीघ्र प्रारम्भ किया जाए।

6- नगर निगम द्वारा हाउस टैक्स को लेकर धरातल पर कोई कार्यवाही नहीं हो रही है, साथ ही पूर्व में बस्तीयों में लगे टैक्स को भी बन्द कर दिया गया है, इसे शीघ्र प्रारम्भ किया जाए एवं जनता से लिए गए टैक्स की इंडेक्सिंग न होने के कारण अभी तक नहीं की गई है, और किसी को भी विभाग द्वारा जो प्रपत्र भेजा जाता था, वह अभी तक नहीं मिल पाया, इसी के कारण अन्य टैक्स सम्बन्धित कार्य भी लम्बित पड़े हुए हैं।

7- पूर्व में विधायक निधि द्वारा नगर निगम को 05 ई-रिक्शाॅ उपलब्ध कराए गए थे, जिनका निगम द्वारा उचित रख-रखाव नहीं किया जा रहा है, और अधिकांश उपयोग में नहीं हैं, उन्हें तत्काल ठीक कराया जाए।

8- शहर में जगह-जगह होर्डिंग लगाए जा रहे हैं, वे किन मानकों के आधार पर लगाए जा रहे हैं, साथ ही मार्ग के मोड़ों पर जो होर्डिंग लगे हैं, उनके कारण सामने से आ रहे वाहन दिखाई नहीं देते जो कि दुर्घटना का मुख्य कारण बन सकते हैं।

9- नगर निगम द्वारा वार्डों में विकास कार्यों हेतु टेंडर किए गए हैं, लेकिन कार्यवाही प्रारम्भ नहीं की गई, इसे अविलम्ब शुरू करवाया जाए।

10 – नगर निगम मंे कार्यरत सफाई कर्मचारीयों की मृत्यु के उपरान्त मृतक के परिवार में किसी को मृतक आश्रित के आधार पर नियुक्ति प्रदान की जाए।

11- नगर निगम वार्डों में कई स्थानों पर स्ट्रीट लाईटंे खराब हैं, और कुछ विद्युत पोलों पर स्ट्रीट लाईट नहीं है, साथ ही लाईटों को समय पर खोलने/बंद करने की कोई व्यवस्था नहीं, उसे सुधारा जाए।

12- शहर में घूम रहे आवारा पशुओं/आवारा कुत्तों के कारण कुछ न कुछ दुर्घटनाएं होती रहती हैं, हाल ही में कांवली रोड़, खुड़बुड़ा, डालनवाला आदि में आवारा कुत्तों राह चलते व्यक्तियों को काटा गया है, इसके निराकरण के लिए निगम अविलम्ब कार्यवाही की जाए।

13- डेंगू के निराकरण को निगम द्वारा की जा रही फाॅगिंग की क्या स्थिति है, जनता द्वारा संज्ञान मंे लाया गया है कि कुछ वार्डों मंे फाॅगिंग समय पर नहीं की जा रही है, साथ ही दवाईयों का छिड़काव भी समय पर नहीं किया जा रहा है।

14- शहर के छोटे-बड़े नालों की समय-समय पर सफाई करने के लिए नाला गैंग के कर्मचारियांे की संख्या बढ़ाई जाए ताकि बरसात में समय रहते सफाई की जाए, अक्सर नालों में कूड़ा फसने पर जलभराव की स्थिति से जनता को जूझना पड़ता है।

15- बरसात में जंगली घास तेजी से बढ़ती है, जिस कारण इनमें अनेकों विषैले जीव रहते हैं, इसे समय-समय पर कटवाया जाए।

16- शहर में मुख्य मार्ग, आन्तरिक मार्गों पर जो नालीयां बनी हैं, उनकी समय पर सफाई नहीं की जाती, जिससे बरसात में सारा गन्दा पानी सड़कों पर बहने लगता है, इनकी समय-समय पर सफाई करवाई जाए।

17- राजा रोड़ कूड़ा ढोल, तहसील, बिन्दाल, नेशविला रोड़ ऐसे स्थान हैं जहां पर कूड़े का ढेर रास्ते में पड़ा रहता है, इनके निकट ही स्कूल व मंदिर भी हैं, जहां श्रद्धालुओं, छात्र-छात्राओं का भी आवागमन बना रहता है, इसके निराकरण को प्राथमिकता पर उचित व्यवस्था बनाई जाए।

18- रात के समय विभिन्न प्रतिष्ठानों के निजी वाहनों द्वारा ढेर सारा कूड़ा लाकर कूड़े दानों में डाल दिया जाता है, जिससे आधा कूड़ा सड़क पर ही पड़ा रहता है, इस पर निगम द्वारा तत्काल उचित कार्यवाही की जानी चाहिए।

19- निगम द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा है, जो कि मुख्य मार्गों पर केन्द्रीत है, इसमें कुछ क्षेत्र/मुख्य बाजार ऐसे भी हैं जहां यातायात बाधित रहता है, उन स्थानों पर नगर निगम द्वारा क्या कार्यवाही की जा रही है।

20- सफाई व्यवस्था के लिए उपयुक्त उपकरणों की भारी कमी है इस कमी को पूरा करने हेतु उचित उपकरण नगर निगम में उपलब्ध करवाए जाएं।

21- कूड़ा उठान वाहनों को ढक कर ले जाया जाए, ताकि रास्ते में चल रही जनता को किसी प्रकार की असुविधा न हो।

इस मौके पर स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ0 आर0के0 सिंह, डाॅ0 कैलाश गुंज्याल के साथ नेता प्रतिपक्ष नीनू सहगल, पूर्व महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, महिला महानगर अध्यक्ष कमलेश रमन, ब्लाॅक अध्यक्ष कुलदीप कोहली, पार्षद डाॅ0 बिजेन्द्र पाल सिंह, राजेश पुण्डीर, बीना बिष्ट, जगदीश धीमान, अशोक कोहली, अर्जुन सोनकर, प्रकाश नेगी, देवेन्द्र पाल सिंह, मीना बिष्ट, राजेश चैधरी, चरणजीत कौशल, रमेश बुटोला, निखिल कुमार, अल्पना जदली, अवधेश पंत, मुकेश सोनकर, वार्ड अध्यक्ष इन्तजार अहमद, दानिश कुरैशी, तजेन्द्र कौर, देविका रानी, दीपा चैहान, मधु थापा, देवेन्द्र कौर, सोमप्रकाश शर्मा, ममता, राजेश शर्मा, गुलशन सिंह, संजय काला, मुकेश प्रजापति, तरूण मारवाह, मनोज कुमार, लेखराज, वीरेन्द्र खत्री, ओमी यादव, राजेश चंदेल, शशी सोनकर, सुनील बांगा, जहंागीर खान, अनिल सिंगारी, निरंजन पाल, सुनील, वी0के0 चहल, प्रद्युमन बडोला, सौरभ सचदेवा, तरनजीत कौर, अनुराधा तिवारी, सचिन सोनकर, सुनील पासी, प्रमोद गुप्ता, दिनेश गुप्ता, राहुल शर्मा, राजेन्द्र बिष्ट, उदयवीर मल्ल, नीरज नेगी, रूदल शर्मा, नीरज नेगी, नरेन्द्र राणा, आशू रतूड़ी, मोहन काला, विजय कुमार, बलराज, रेखा ढिंगरा, सुनीता भट्ट, तुषार वैद्य, अनित कुमार, योगेश भटनागर, गुच्छन, शकुन्तला, मिथलेश, गायत्री, सुषमा आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here