आंदोलनकारियों पर गिरी एफआईआर की बिजली

बलिया(ब्यूरो)– बैरिया तहसील के बीबी टोला ट्रांसफॉर्मर की क्षमता वृद्धि करने व जर्जर तार बदलने की मांग को लेकर शनिवार को मिर्जापुर व बीबी टोला के ग्रामीणों द्वारा आंदोलन किया गया| इस मामले मे पहले के ही तीन बार की तरह आन्दोलित लोगों को आश्वासन देकर टाला गया न तार मिला न ट्रांसफार्मर अपग्रेड हुआ। अलबत्ता आन्दोलित तीन दर्जन से अधिक लोगों पर जेई रतन लाल की तहरीर पर बैरिया थाने में मुकदमा दर्ज कर दिया गया।

इस कार्रवाई की जानकारी होने पर मिर्जापुर व बीबीटोला के ग्रामीणों मे जबरजस्त आक्रोश है। ग्रामीणों का कहना था कि बीबीटोला मे लगे ट्रांसफॉर्मर की क्षमता बढाने तथा बीबीटोला से मिर्जापुर गाँव तक खेतो के रास्ते गये तार तथा बीबीटोला में लगे विद्युत तार खम्भों के बीच काफी नीचे तक आ गये है| यहाँ कभी भी दुर्घटना हो सकती है। जिसकी जानकारी देते हुये प्रधान प्रतिनिधि शिवकुमार वर्मा मंटन के नेतृत्व में मई माह से ही तार बदलने व ट्रांसफॉर्मर अपग्रेड करने की मांग की गयी।

इस मामले मे विभाग के एसडीओ द्वारा 20 मई, 28 मई व 19 जून को ग्रामीणों के धरना प्रदर्शन के दौरान आश्वासन दिया गया लेकिन न तो तार बदला और न ही ट्रांसफॉर्मर ही बदला गया| इसी बीच जोड तोड करके बीबीटोला से मिर्जापुर गाँव तक गये तार बृहस्पतिवार को खेतो के बीच टूट कर गिर पडा, तब खेत में काम कर रही तीन महिलाएं बाल बाल बची। अगले दिन जेई व एसडीओ के आने की सूचना पर लोग आन्दोलित हो उठे और दोनों का घेराव कर दिये, तब एसएचओ बैरिया भी मौके पर पहुंचे| आन्दोलित लोग तार बलिया से भेजने के लिये एसडीओ को जाने दिये लेकिन तार आने तक के लिये जेई को रोक कर बैठ गये। तार तो नहीं आया, लेकिन आन्दोलित लोगों पर मुकदमा दर्ज हो गया।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY