मुख्य सदर बाजार में शराब की दुकानें खुलने से निवासियों में आक्रोश व रोष व्याप्त

0
74


बीघापर (उन्नाव ब्यूरो) : उच्च न्यायालय के आदेशानुसार राजमार्ग से हटाये गये शराब की दुकाने मुख्य सदर बाजार में खुलने से निवासियो में आक्रोश व रोष व्याप्त है। नियम विरुद्ध खुली चारो दुकानो को हटाए जाने की मांग पुलिस कप्तान से की है। शिकायतकर्ताओ ने शीघ्र दुकानो को हटाये न जाने पर अनशन व धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी है।

पुलिस अधीक्षक नेहा पाण्डेय को दिये गये शिकायती पत्र में शिकायतकर्ता राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ.प्र. के प्रदेशीय महामंत्री भगवती सिंहए पूर्व सभासद राकेश कुमार, सुधीर वाजपेई, सोनू साहू, सुभाष बाजपेयी, अनुराग बाजपेयी, सूर्यकांत शुक्ला, अवधेश शुक्ला, शहीद मोहम्मद, प्रधानाचार्य राजेन्द्र दीक्षित, कुलदीप अग्निहोत्री, सर्वेश कुमार आदि ने कहा है कि मुख्य बाजार के 100 मीटर के अन्दर कमलापति इण्टर कालेजए पार्वती बालिका इण्टर कालेज, नरायन पब्लिक स्कूल व एक्सीलेन्ट विद्यालय तथा बाबा नागेश्वर मंदिर सहित कई सरकारी कार्यालय घनी बस्ती में मौजूद हैं। उच्चतम न्यायालय के निर्देशो के बावजूद भी 1 अप्रैल से चारो दुकाने चालू कर दी गयी है। सब्जी मण्डी में महिलाओ के साथ कुछ हदसा भी हो सकता है जिससे अब महिलाएं बाजार में सब्जी लेने जाने से हिचक रही हैं। इससे कस्बे के अन्दर अराजकता का माहौल पनप रहा है। शिकायतकार्ताओ ने शीघ्र चारो दुकानो को आबादी के बाहर स्थानांतरित न किये जाने पर धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है तथा किसी प्रकार की घटना दुर्घटना जन व राष्ट्र हानि होने पर जिला प्रशासन को जिम्मेदार बताया है।

रिपोर्ट – मनोज सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here