लोहिया ग्रामीण बस सेवा बन्द होने से लोगों में आक्रोश

0
88

औरैया (ब्यूरो)- पिछले सपा सरकार द्वारा औरैया से बीहड़ क्षेत्र के गांव क्योंटरा तक लोहिया ग्रामीण सेवा का संचालन किया गया था जिससे लोगों को आवागमन की भरपूर सुविधा प्राप्त हो रही थी नई सरकार द्वारा इसे बंद कर दिया गया जिससे लोगों में जबरदस्त आक्रोश है।

औरैया डिपो के अंतर्गत पिछली समाजवादी सरकार द्वारा एक सपा नेता की पहल पर जनपद के बीहड़ क्षेत्र के कई गांव के लोगों के आवागमन की सुविधा के लिए औरैया से क्योंटर के बीच कई गांव पंढरपुरा, नंदगांव ,भाऊपुर, सरैया, आदि गावों को होते हुए कानपुर तक लोहिया ग्रामीण परिवहन सेवा शुरु की गई थी जिससे लोगों को प्रतिदिन अपने दैनिक कार्यों को समय से करने के लिए आवागमन की भरपूर सुविधा प्राप्त हो रही थी नई सरकार के गठन के बाद इस लोहिया ग्रामीण सेवा को बंद कर दिया गया इसके पीछे परिवहन निगम को भरपूर आमदनी ना होना व निगम के घाटे में जाने की बात कही जा रही है।

डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक हरिष्चन्द्र वर्मा ने बताया कि निगम को औरैया से क्योंटरा रूट पर चलाई जाने वाली बस में पर्याप्त सवारियां नहीं हो पा रही थी जिससे निगम को घाटा हो रहा था यहां तक की प्रयोग किया जाने वाला डीजल खर्च भी मुश्किल से निकल पा रहा था साथ ही जिस सड़क पर बस को चलाया जा रहा था उस सड़क पर गड्ढे व खराब सड़क होने के कारण डीजल की खपत ज्यादा हो रही थी। इसलिए ग्रामीण सेवा को बंद करना पड़ा। जबकि वहीं दूसरी तरफ जिन गॉवों से होकर यह बस गुजरती थी, वहां के ग्रामीणों लालता प्रसाद ,सुरेश चंद्र, सैयद अली, इस्लाम मंसूरी, राजाराम, कमरुद्दीन, नेहाल बाबू, शिव कुमार पांडे, जगत नारायण मिश्रा आदि लोगों का कहना है की नई सरकार ने बदले की भावना से लोहिया ग्रामीण सेवा को इस रूट पर बंद कर दिया बस सेवा के बंद होने से हम ग्रामीणों को रोजमर्रा की जिंदगी की गुजर बसर के लिए बाहर आवश्यक कार्य हेतु जाना पड़ता था जिससे परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

व्यापारी वर्ग को सबसे अधिक दिक्कत उठानी पड़ रही है लोहिया ग्रामीण सेवा बंद होने से आसपास गांव के लोगों में जबरदस्त आक्रोश है तथा इसे फिर से शुरू कराए जाने की मांग की है वही निगम द्वारा खराब सड़क का हवाला देकर बंद की गई बस सेवा को क्या दोबारा शुरू किया जाएगा जहां एक तरफ सरकार द्वारा 15 जून तक सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का फरमान जारी किया गया है अब देखना होगा कि क्या गड्ढा मुक्त सड़क होने के बाद इस सेवा को शुरू किया जाएगा।

औरैया डिपो कें रूट संचालक आरएन द्विवेदी ने बताया कि भाउपुर से क्यांेटरा के बीच जिस बस का संचालन किया जा रहा था। बीच में पडने वाले गांव के भगवा गमछाधारियों ने बस में जबरन सवार होकर मुफ्त में चलने के लिये चालक और परिचालक के साथ मारपीट की किराया मांगने पर उनके साथ अक्सर गाली गलौज और मारने की धमकी आदि देते थे। जिससे उस रूट के चालक परिचालक डरे सहमें है और उन्होने बस ले जाने से इंकार करते हुये सेवा को बन्द कर दिया। भगवा गमछाधारियों की दंबगयी कि षिकायत क्षेत्राधिकारियों से की गयी है। उन्होेने बस संचालन हेतु पूर्ण सहयोग एवं सुरक्षा एवं आवष्यक कार्यवाही का आष्वासन दिया है। एक सप्ताह के अन्दर बस को दुबारा चालू कराया जायेगा।

रिपोर्ट- मनोज कुमार⁠⁠⁠⁠

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY