आबकारी विभाग के रहमोकरम से फल-फूल रहा है ताड़ी का कारोबार

0
68

उन्नाव(ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश के जनपद में जिस तरह पूर्व सरकार में चल रहा था उसी तरह बीजेपी सरकार में योगी जी के आदेश अधिकारियों पर बेअसर दिखाई दे रहा है| पुलिस व आबकारी विभाग अधिकारियों की मिलीभगत से अवैध जहरीली ताड़ी का कारोबार चल रहा है।

औरास थाना क्षेत्र के अंतर्गत आबकारी विभाग व पुलिस की खाऊ कमाऊ नीतियों के चलते ताड़ी का अवैध कारोबार खुले आम चल रहा है| उन्नाव जिले में ताड़ी बनाने पर पूर्ण रूप से प्रतिबंधित होने के बावजूद क्षेत्रीय पुलिस व आबकारी विभाग के रहमोकरम से अवैध कारोबार फल फूल रहा है|

ग्रामीणों की जानकारी के अनुसार आबकारी विभाग के आशीर्वाद से ताड़ी व्यवसाय ताड़ी को नसीली बनाने के लिए कम्पोस, गाड़ीनाल आदि दवाये कैमिकल मिलाकर बेचते है| आबकारी अधिकारी और पुलिस ने क्षेत्र में जहर बेचने की खुली छूट दे रखी है नशीली ताड़ी पीकर लोग आये दिन आपस में झगड़ा व मार पीट होती रहती है क्षेत्रों में यह आम बात है| जिसमें पहले भी अधिकारियों की साठ गांठ के चलते क्षेत्र में जहरीली शराब का काण्ड पुरे क्षेत्र में चर्चित होने के बावजूद अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे है|

नाम न छापने की शर्त पर एक ताड़ी कारोबारी ने बताया कि हर हफ्ते जिला व उच्य अधिकारियों को मोटी रकम पहुंचाई जाती जानकारों ने बताया कि औरास थाना क्षेत्र के गाँव सरीफ बाद, रतन खेङा, जब्बर खेङा, बलदेव खेङा, राम पुर राई जवन करौंदी आदि दर्जनों गांवों में नशीली ताड़ी का कारोबार हो रहा है| लोगों का आरोप है कि कई बार मौखिक शिकायत पर अधिकारियों तो आये किन्तु मोटी रकम वसूली करके चले जाते है कार्य वाही न होने से अवैध कारोबारियों के हौसले बुलंद है।

रिपोर्ट- विपिन औरास

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY