थाने में पुलिस कर्मियों से मारपीट और अभद्रता करने के मामले में मुक़दमा दर्ज़

0
91

देहरादून (ब्यूरो)- थाने में पुलिस कर्मियों से मारपीट और अभद्रता करने के मामले में प्रेमनगर पुलिस ने उत्तर प्रदेश के उन्नाव में अतिरिक्त जिला जज परिवार न्यायालय जया पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। मुकदमा उच्च न्यायालय इलाहाबाद की अनुमति के बाद दर्ज किया गया।

पुलिस के मुताबिक बीती 11 सितंबर को पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी में लॉ द्वितीय वर्ष के छात्र रोहन पाठक व प्रभात आर्य के बीच कार की तेज रफ्तार को लेकर मारपीट हो गई। मारपीट में दोनों तरफ से कई छात्र शामिल थे। अगले दिन 12 सितंबर को भी दोनों गुटों में मारपीट हुई। यह सूचना मिलने पर प्रेमनगर पुलिस यूनिवर्सिटी पहुंची और दोनों छात्र गुटों को थाने ले आई। दोपहर करीब दो बजे आरोपी छात्र रोहन पाठक की मां जया पाठक पति देवेश पाठक के साथ थाने आई। पुलिस के मुताबिक माता-पिता के सामने रोहन उग्र हो गया और दूसरे पक्ष की कार में तोड़फोड़ करने लगा। इस पूरे घटनाक्रम का एक पुलिस कर्मी मोबाइल से वीडियो बना रहा था। यह देखकर जया पाठक आक्रोशित हो गई और वीडियो बना रहे पुलिस कर्मी को कई थप्पड़ जड़ दिए। उसने खुद को जज बताते हुए अन्य पुलिस कर्मियों और थानाध्यक्ष नरेश राठौर के साथ भी अभद्रता की। पुलिस कर्मियों से मारपीट और अभद्रता का वीडियो सोशल मीडिया में भी खूब वायरल हुआ था।

हालांकि, जया पाठक के न्यायायिक सेवा में होने के कारण पुलिस तत्काल कोई कार्रवाई नहीं कर पाई। विधिक राय लेने के बाद एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने उच्च न्यायालय इलाहाबाद उत्तर प्रदेश में मारपीट का वीडियो, जेडी की प्रति आदि साक्ष्य प्रेषित कर जया पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की अनुमति देने का अनुरोध किया। अनुमति मिलने के बाद शुक्रवार को थानाध्यक्ष प्रेमनगर नरेश राठौर ने जया पाठक निवासी टी-9, 304 पशुनाथ प्लेनेट, गोमतीनगर, लखनऊ उत्तर प्रदेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। जया पाठक पर सरकारी कर्मचारी से मारपीट, सरकारी कार्य में बाधा डालने, गालीगलौच करने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here