महाजाम के झाम में दिनभर हांफता रहा शहर

0
116


रोसड़ा(समस्तीपुर ब्यूरो)
– पिछले चार दिनों से जाम से जूझ रहे शहर के लिए शनिवार का दिन काफी भारी गुजरा| शनिवार को जाम का आलम ऐसा रहा कि पैदल चलना भी दूभर हो गया था़| शहर के बड़ी दुर्गा स्थान चौक से लेकर गांधी चौक तक जाम की समस्या से दिनभर लोग हांफते रहे| दोपहर में प्रथम पाली के परीक्षा समाप्ति पर तो यह नौबत आ गयी कि लोग पैदल चलने का भी हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे| शहर के 2-3 किलोमीटर बाहर तक जाम लग गया था| आम से लेकर खास तक जाम के आगे बेबस दिखे|

सुबह से ही अनुमंडल मुख्यालय में छात्रों व अभिभावकों की भीड़ होने के कारण विभिन्न पथों पर वाहनों की लंबी कतारे लगी रही| वहीं बाई पास सड़क नहीं होने के कारण हर छोटी–बड़ी वाहनों का प्रवेश शहर के सड़कों पर होती रही| जिस कारण जाम की स्थिति भयावह बनी रही| लोग घंटो जाम में फंसे रहे| वहीं जाम से निजात के लिए पुलिसकर्मी दिनभर पसीना बहाते रहे़| बावजूद इसके जाम का रुप इतना विकराल था कि उनके लाख प्रयास के बाद भी लोगों को राहत नहीं मिल सकी| शनिवार की जाम में पैदल यात्रियों के साथ ही साइिकल, मोटरसाइिकल व छोटी-बड़ी अन्य गाड़ियां भी बेतरतीब ढंग से फंसी रहीं|

जाम की समस्या से जहां स्कूली बच्चे भूख से बिलबिलाते रहे, वहीं मैट्रिक परीक्षार्थियों को भी केंद्र तक पहुंचने में भारी मशक्कत करनी पड़ी| जाम के कारण तो कई यात्रियों का ट्रेन भी छूट गयी| वहीं अस्पताल जानेवाले मरीजों को भी परेशानी उठानी पड़ी| बताते चलें कि शहर में आये दिन उत्पन्न हो रहे जाम की समस्या का मुख्य कारण यातायात नियमों की अनदेखी व अतिक्रमण है| प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जहाँ लोग यातायात नियमों का पालन नहीं करते हैं जिससे अक्सर जाम लग जाता हैं| खासकर बाइक सवार व टेंपो चालकों की मनमानी तो देखते ही बनती है| जहां कहीं से भी थोड़ी सी जगह दिखायी दे दी, इनके द्वारा अपने वाहन वही लगा दी जाती है| जिससे देखते ही देखते जाम लग जाती है और जाम हटाने मे घंटो समय लग जाता है|

रिपोर्ट- रंजीत कुमार
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here